मंदिर चाहे जितने अच्छे बना लें… अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा पर क्या बोले पाकिस्तानी? अपने ही देश को कोसने लगे

इस्लामाबाद: अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा की चर्चा पूरी दुनिया में है। ऐसे में पाकिस्तान में इसकी चर्चा न हो ये नहीं हो सकता। राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर एक यूट्यूबर ने चर्चा की। पाकिस्तान के रियल एंटरटेनमेंट टीवी ने लोगों से जब बात की तो वह पाकिस्तान को ही कोसने लगे। भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो की ओर से रविवार को राम मंदिर की सैटेलाइट तस्वीरें जारी की गई। रियल एंटरटेनमेंट टीवी के सुहैल चौधरी ने इसे भारत में आध्यात्म और टेक्नोलॉजी का मिश्रण बताया।पाकिस्तान में लोगों से जब पूछा गया कि भारत टेक्नोलॉजी के साथ-साथ आध्यात्म में भी आगे क्यों है? इस पर एक शख्स ने कहा, ‘क्योंकि हमारा फोकस एक देश पर न होकर खुद पर होता है।’ वहीं एक शख्स ने कहा कि टेक्नोलॉजी में आगे पाकिस्तान भी जा सकता है। लेकिन हम कभी भी अपने बनाए नियमों को नहीं मानते। पाकिस्तान को कहां जाना है यह नहीं पता। बांग्लादेश हमसे अलग हुआ और उसने अपनी तरक्की का रास्ता तैयार कर लिया।अपने देश पर भड़के पाकिस्तानीएक शख्स ने कहा कि पूरी दुनिया में पाकिस्तान का नाम बहुत अच्छा था। लेकिन आज के समय हम फ्रॉड के लिए पूरी दुनिया में मशहूर हो चुके हैं। एक शख्स ने भारत को लेकर कहा कि भारतीय लोग अपने बारे में सोच रहे हैं। पाकिस्तान को भी अपने बारे में सोचना चाहिए। लेकिन हम ऐसा करते नहीं हैं। वहीं इस्लाम के एक जानकार ने पाकिस्तान के हवाले से कहा कि मस्जिदों और मदरसों तक ही दीन को नहीं रखना चाहिए। जरूरी है कि हम दीन की सीख को अपनी जिंदगी में लागू करें। अयोध्या में हुई प्राण प्रतिष्ठावहीं जब सुहैल चौधरी ने पूछा कि भारत में मंदिर में लोहे का इस्तेमाल नहीं हुआ है। क्या ऐसी टेक्नोलॉजी हमें भी इस्तेमाल करनी चाहिए। इस पर एक शख्स ने कहा कि चाहे, मंदिर या मस्जिद हम चाहे जितनी अच्छी बना लें। जब तक उन्हें बनाने का मकसद अपने अंदर नहीं उतारेंगे, तब तक कुछ नहीं होगा। अयोध्या में सोमवार को प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम संपन्न हुआ।