‘मोबाइल सफलता की राह में रोड़ा’, इंदौर में स्वच्छता पर मिस्टर एशिया यतींद्र ने की तारीफ

युवाओं में मोबाइल फोन के बढ़ते क्रेज पर मिस्टर एशिया यतींद्र सिंह ने चिंता व्यक्त की. उन्होंने कहा कि मोबाइल इच्छी चीज है, लेकिन अब यही मोबाइल युवाओं की सफलता की राह में रोड़ा भी बन रही है. आज के युवा मोबाइल से रील बनाने में व्यस्त हैं, जबकि यह समय उन्हें अपने गोल अचीव करने का है. मिस्टर एशिया यतींद्र सिंह रविवार को इंदौर में थे. उन्होंने शहर की स्वच्छता को लेकर उन्होंने प्रशासन और स्थानीय लोगों की जम कर तारीफ की. कहा कि ऐसी ही सफाई व्यवस्था पूरे देश में होनी चाहिए.
उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि इंदौर की स्वच्छता काबिले तारीफ है. उन्होंने शहर की स्वच्छता के लिए स्थानीय लोगों के साथ ही स्थानीय प्रशासन की जमकर तारीफ की. इसी क्रम में उन्होंने युवाओं को अपना ध्यान गोल पर केंद्रित करने की सलाह दी. कहा कि मोबाइल का उपयोग लोग कई तरह के रील बनाने में कर रहे हैं. इस रील के चक्कर में वह अपने गोल को मिस कर जाते हैं. यह अच्छी बात नहीं है. यदि गोल अचीव करना है तो मोबाइल को छोड़ना होगा.
नशा गोल का करें, शराब का नहीं
मिस्टर एशिया यतींद्र सिंह ने कहा कि युवा नशे की ओर बढ़ रहे हैं. उन्होंने सलाह दी कि यदि नशा करना ही है तो शराब या अन्य चीज का करने के बजाय अपने गोल का करना चाहिए. इससे नाम और प्रतिष्ठा तो मिलेगी ही, उनके परिवार का नाम भी देश और समाज में ऊंचा उठ जाएगा. इससे जो गौरव हासिल होगा, उसकी खुशी अलग ही होगी.
गलत एक्सरसाइज से हो रही मौतें
जिम में कुछ अभिनेताओं की मौत पर मिस्टर एशिया यतींद्र सिंह ने टिप्पणी की. कहा कि उसको लेकर उनका कहना था कि आजकल युवा जिम में जाते ही अलग-अलग तरह से एक्सरसाइज शुरू कर देते हैं. चूंकि जिम में अच्छे ट्रेनर नहीं होते ऐसे में यह एक्सरसाइज खतरनाक होती जा रही है. गलत तरीके से एक्सरसाइज करने की वजह से दिल पर असर होता है और हार्ट फेल हो जाता है. इसी प्रकार कुछ युवा प्रोटीन और इंजेक्शन के सहारे मसल्स को सेप दे रहे हैं. वह भी गलत है. इंदौर में यतींद्र सिंह का रोड शो का आयोजन किया. जिसमें बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया.