MP: नहीं पूरी हुई आंख ठीक होने की मन्नत, नाराज युवक ने 2 मंदिरों की मूर्तियां तोड़ी; गिरफ्तार

इंदौर के दो मंदिरों में तोड़फोड़ के आरोप में पुलिस ने 24 वर्षीय युवक को गिरफ्तार किया है. पुलिस के एक अधिकारी ने आरोपी से शुरुआती पूछताछ के हवाले से बताया कि उसने भगवान से मन्नत मांगी थी कि बचपन में एक दुर्घटना में खराब हुई उसकी आंख ठीक हो जाए और वह यह प्रार्थना पूरी नहीं होने से खिन्न था. अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त प्रशांत चौबे ने शुक्रवार को पीटीआई को बताया कि हाल ही में रात के वक्त चंदन नगर और छत्रीपुरा के दो मंदिरों में तोड़फोड़ कर प्रतिमा खंडित करने के मामले में शुभम कैथवास (24) को गिरफ्तार किया गया है.उन्होंने बताया कि पुलिस की शुरुआती पूछताछ के दौरान आरोपी ने कहा कि उसकी एक आंख बचपन में दुर्घटनावश कांच घुसने से खराब गई थी और उसने भगवान से मन्नत मांगी थी कि वह इस आंख को ठीक कर दें.
प्रार्थना पूरी नहीं होने से खिन्न था युवक
चौबे ने कहा,पूछताछ में कैथवास ने हमें बताया कि वह अपनी यह प्रार्थना पूरी नहीं होने से खिन्न था. हालांकि, हम मंदिरों में तोड़फोड़ के संवेदनशील मामले की विस्तृत जांच कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि आरोपी पहली नजर में मानसिक रूप से अस्थिर प्रतीत होता है. अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त ने बताया कि कैथवास के पिता की हार्डवेयर की छोटी-सी दुकान है, लेकिन आरोपी कोई काम नहीं करता है और यहां-वहां घूमता रहता है. चौबे ने बताया कि पुलिस ने कैथवास के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 295-ए (किसी वर्ग की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के इरादे से जानबूझकर किए गए विद्वेषपूर्ण कार्य) के तहत मामला दर्ज किया है.