MP News: ‘महाकाल लोक’ की तर्ज पर बनेंगे 7 नए लोक, 3500 करोड़ रुपए खर्च करेगी शिवराज सरकार

भोपाल: मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में अब कुछ ही महीने का वक़्त बचा है. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने तय कर लिया है कि ये चुनाव हार्डकोर हिंदुत्व के मुद्दे पर ही लड़ा जाएगा. लिहाजा एक के बाद एक महाकाल लोक की तर्ज़ पर अलग-अलग लोक बनाने का ऐलान हो रहा है. सरकार इस पर करीब 3500 करोड़ रुपए खर्च कर रही है. दरअसल मध्य प्रदेश में अब बीजेपी सरकार हार्ड कोर हिंदुत्व के एजेंडे को फॉलो कर रही है. यही कारण है कि एक के बाद एक लगातार घोषणाएं मुख्य मंत्री शिवराज सिंह चौहान करते हुए नज़र आ रहे हैं.
हालांकि ये बात तो तय है कि 2023 में होने वाले चुनाव 2018 के मुकाबले काफी मुख्तलिफ होने वाला है, इस बार सरकार ने तय कर लिया है कि ये चुनाव हार्डकोर हिंदुत्व के एजेंडे पर ही लड़ा जाए. इसके लिए बीजेपी सरकार ने पहले से ही प्लान बना लिया है. दरअसल महाकाल लोक की तर्ज पर मालवा, निमाड़ ,ग्वालियर-चंबल और बुंदेलखंड में अलग-अलग प्रमुख मंदिरों में कॉरिडोर बनाए जाएंगे. सरकार इसमें क़रीब 3500 करोड़ रुपए खर्च करेगी.
7 लोक बनाएगी सरकार
बता दें कि उज्जैन के महाकाल लोक के निर्माण में सरकार ने 850 करोड़ रुपए खर्च किए हैं. वहीं अब सरकार सल्कनपुर में देवी लोक के निर्माण के लिए 115 करोड़ रुपए खर्च करेगी. ओंकारेश्वर में एकात्मधाम के लिए 2200 करोड़ रु खर्च किए जा रहे है इसका निर्माण भी चल रहा है. सागर में स्थित रविदास मंदिर धाम में 100 करोड़ खर्च किए जाएंगे. दतिया के पीताम्बरा पीठ में पीतांबरा माई लोक बनेगा. ओरछा के रामराजा लोक और चित्रकुट में वनवासी लोक का प्लान तैयार है कितना खर्च आएगा इसको लेकर आंकलन किया जा रहा है. उज्जैन महाकाल लोक जैसे कुल 7 लोक बनाएगी सरकार
ये भी पढ़ें-Indore News: कांग्रेस ने बिलावल भुट्टो के विरोध में लगाए पोस्टर, लिखा- नो एंट्री इन इंडिया
इसके अलावा सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ब्राह्मण आयोग बनाने की घोषणा की है. वही मंदिर समितियों को शासन-प्रशासन से मुक्त करने का ऐलान भी किया गया है. वही 5 हजार रुपए का भत्ता पुजारियों को मिलेगा.
सरकार सिर्फ घोषणाएं ना करें इसका क्रियान्वयन भी हो
बीजेपी सरकार के तमाम प्रोजेक्ट्स को लेकर संतों की भी मिली जूली प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है. कुछ संतों ने इन फ़ैसलों का स्वागत किया है तो कुछ का कहना है कि सरकार सिर्फ घोषणाएं करती है. बेहतर है कि इन घोषणाओं का क्रियान्वयन भी हो इसे लेकर अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज के प्रदेश अध्यक्ष ने भी क्रियान्वयन की ही बात दोहराई है.
ये भी पढ़ें- राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा मिला,अब संगठन विस्तार में लगी AAP, MP-उत्तराखंड में नए पदाधिकारियों की नियुक्ति
वही कांग्रेस इसे लेकर बीजेपी सरकार पर निशाना साध रही है. पूर्व धर्मस्व मंत्री और कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा का कहना है ऐसी हज़ारों घोषणाएं सरकार पहले भी कर चुकी है. सिर्फ़ चुनाव नज़दीक आने पर ही इस तरह की बातें हो रही हैं.
बीजेपी नेता जमकर करेंगे देव लोकों का प्रचार
कांग्रेस के इस आरोप पर भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जवाब दिया है. सीएम ने कहा है कि कांग्रेस ये बताए की क्या महाकाल लोक चुनाव के वक़्त बना? क्या सल्कनपुर का प्रोजेक्ट आज का है ? ये तो बरसों पुराना है. यानी इस बार सरकार ने तय कर लिया है कि विपक्ष चाहे जितना ही हंगामा क्यूं ना करे. चुनावी सभाओं से लेकर अपनी सरकार की उपलब्धियों तक बीजेपी नेता इन देव लोकों का जमकर प्रचार प्रसार करते हुए नज़र आयेंगे. देखना होगा इसका फ़ायदा चुनाव में कितना मिलता है.