MP Board: ये कैसा आदर्श स्कूल? बरामदे में बैठाकर बोर्ड परीक्षा, एग्जाम के बाद छात्र लगाते हैं झाड़ू

MP Board Exam 2023: मध्यप्रदेश के खरगोन में एक बार फिर परीक्षा केंद्रों पर अव्यवस्थाओं की तस्वीरें सामने आई है. यहां पर छोटी खरगोन परीक्षा केंद्र पर पांचवी और आठवीं की MP Board Exam 2023 में परीक्षार्थियों को अव्यवस्थाओं का सामना करना पड़ा. यहां पर परीक्षा देने पहुंचे विद्यार्थी बरामदे में बैठकर प्रश्न पत्र हल करते नजर आए. वहीं परीक्षा समाप्त होने के बाद विद्यार्थियों से स्कूल प्रबंधन ने झाड़ू भी लगवाई जिसके वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहे हैं.

प्रदेश और केंद्र सरकार शिक्षा को बढ़ाने के लिए तरह-तरह की योजनाएं चलाकर बच्चों को शिक्षा के प्रति जागरूक करने का काम कर रही है. वहीं बच्चों को बेहतर शिक्षा और अच्छा माहौल मिले इसके लिए भी कार्य हो रहा है. लेकिन स्कूल प्रबंधन अपने मनमानी के चलते इन योजनाओं को पलीता लगाने का कार्य कर रहे हैं.
MP में 5वीं और 8वीं की बोर्ड परीक्षा
इस वर्ष कक्षा पांचवी और आठवीं की परीक्षा बोर्ड पैटर्न पर होने जा रही है. ऐसे में विद्यार्थियों को परीक्षा केंद्रों पर काफी असुविधा और अव्यवस्थाओं का सामना करना पड़ रहा है. ऐसा ही एक मामला मध्यप्रदेश के खरगोन में सामने आया है. यहां पर छोटी खरगोन के परीक्षा केंद्र पर परीक्षा देने पहुंचे विद्यार्थियों को बरामदे में बैठकर परीक्षा देने के लिए मजबूर होना पड़ा. वहीं, परीक्षा समाप्त होने के बाद स्कूल के विद्यार्थियों से स्कूल परिसर में प्रबंधन द्वारा झाड़ू भी लगवाई गई जिसके वीडियो अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है.

ये भी पढ़ें : विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप 2023 में गोल्ड मेडल किस-किस ने जीता? पढ़ें करेंट अफेयर्स के सवाल-जवाब

आपको बता दें कि इस तरह से अव्यवस्थाओं की तस्वीरें और स्कूल के विद्यार्थियों से स्कूल परिसर में झाड़ू लगाने की तस्वीरें खरगोन में पहले भी सामने आ चुकी है. लेकिन आज तक स्कूल प्रबंधन ने व्यवस्थाएं सुधारी और ना ही जिम्मेदारों ने इस पर कभी ध्यान दिया. इसके चलते स्कूल प्रबंधन अपनी मनमानी पर उतारू है. कई बार स्कूल के विद्यार्थियों ने इसका विरोध भी किया. लेकिन प्रबंधन का यह तर्क है कि स्कूल हमारा है और यहां पर सारी व्यवस्थाएं और साफ सफाई की जिम्मेदारी भी हमारी ही है, तो सारे कार्य हमें ही करना होते हैं.
एग्जाम सेंटर पर खराब व्यवस्था
वहीं इस पूरे मामले पर खरगोन के कलेक्टर शिवराज वर्मा ने TV9 भारतवर्ष को बताया कि आपके द्वारा यह मामला हमारे संज्ञान में लाया गया है. निश्चित तौर पर डीपीसी और जिला शिक्षा अधिकारी से बात करेंगे और इस मामले की जांच करवा कर उचित कार्रवाई की जाएगी. वहीं, परीक्षा केंद्रों पर व्यवस्थाएं सुधारी जाएगी और विद्यार्थियों को किसी भी प्रकार की असुविधा होने नहीं देंगे. बड़ा सवाल यह है कि परीक्षा केंद्रों पर ऐसी ही व्यवस्थाएं रही तो कैसे पढ़ेगा और बढ़ेगा इंडिया यह सोचने वाली बात होगी.

ये भी पढ़ें : हरियाणा बोर्ड 10वीं की परीक्षा खत्म, 4518 छात्रों के लिए इस दिन होगा पेपर, जानें कब आएगा रिजल्ट