मां तुम तो ऐसा ना करतीं! बच्चे को पैदा होते ही मार देने वाली महिला मां तो नहीं हो सकती!

मां को अगर भगवान का रूप कहें तो कुछ भी गलत नहीं है। 9 महीने तक एक महिला अपने बच्चे को गर्भ में रखती है, उसे इतना दर्द सहकर जन्म देती है। अपने बच्चे को सारे दुखों से बचाती है। उसकी सुरक्षा का हर हाल में ख्याल रखती है, लेकिन कई बार ऐसी खबरें सामने आती हैं जिनपर यकीन करने को दिल नहीं करता। ऐसी खबरें होश उड़ा देती हैं जहां पता चलता है कि मां ही अपने बच्चे की कातिल बन गई और वो भी नवजात बच्चे की। कोलकाता में मां ने नवजात का किया कत्लकोलकाता में एक मां ने अपने बच्चे को बाथरूम के अंदर अकेले ही जन्म दिया। बच्चा जैसे ही पैदा हुआ तो वो रोने लगा। कहते हैं मां अपने बच्चे की पहली चीख सुनकर सबसे ज्यादा खुश होती है, लेकिन इस मां ने जैसे ही बच्चे की रोने की आवाज सुनी इसने बच्चे का मुंह बंद कर दिया और उसे सीधा बाथरूम की खिड़की से बाहर फेंक दिया। नन्हें बच्चे की रोने की आवाज थम गई। यही चाहती थी ये बेरहम मां। बाथरूम की खिड़की से बच्चे को फेंकाबच्चा नीचे गिरा तो पड़ोसियों को पता चल गया। उन्होंने नीचे देखा खून से लथपथ एक नवजात बच्चा गिरा हुआ था। तुरंत पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस मौके पर पहुंची तो बच्चे की मौत हो चुकी थी। महिला के शरीर से खून बह रहा था। उसे अस्पताल में एडमिट करवाया गया। महिला का कहना है कि उसे पता ही नहीं चला कि वो प्रेगनेंट है और अचानक बच्चे के जन्म की वजह से वो परेशान हो गई थी। वहीं परिवारवालों को कहना है कि महिला की मानसिक हालत ठीक नहीं है। पुलिस ने महिला के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। दिल्ली में भी शर्मसार हुई थी ममतादिल्ली में भी कुछ समय पहले ऐसे ही एक मां ने पैदा होते ही अपने बच्चे को मौत दे दी थी। दिल्ली के अशोक नगर में एक नवजात बच्चे को तीसरी मंजिल में बाथरूम की खिड़की से नीचे फेंक दिया गया था। बच्चा जब नीचे गिरा तो पड़ोसियों को लगा कि शायद किसी ने कूड़ा फेंका होगा, लेकिन जब हकीकत सामने आई तो हर कोई हैरान रह गया। बच्चा नीचे गिरने के बावजूद जिंदा था, उसके पैर हिल रहे थे। पड़ोसी बच्चे को अस्पताल ले गए, लेकिन तब तक उसकी मौत हो गई। पुलिस को खबर दी गई तो पता चला कि वो बच्चा तीसरी मंजिल में रह रही बीस साल की एक लड़की का था, जिसने बाथरूम में ही बच्चे को जन्म दिया और पैदा होते ही उसी मां ने उसे मौत दे दी। मध्यप्रदेश में भी नवजात को मां और मामा ने मरवायामध्यप्रदेश के झाबुआ में भी ममता को शर्मसार करने वाली ऐसी ही घटना सामने आई थी। यहां एक मां अपने नवजात बच्चे को अपने भाई की मदद से मरवा दिया। दरअसल महिला का रेप हुआ था और बच्चा रेप की वजह से ही पैदा हुआ था और इसलिए मां और मामा ने मिलकर नन्हे बच्चे की जान ले ली। इसके बाद इन्होंने बच्चे को जमीन में भी गाड़ दिया। पुलिस को जब इस बात की खबर मिली तो तुरंत केस की जांच शुरू हुई। दोनों को गिरफ्तार किया गया तो मां और मामा ने अपना जुर्म कबूल किया। उन्होंने बताया कि पैदा हुआ बच्चा लड़का था। उन्होंने कहा कि अगर वो बच्चे को नहीं मारते तो प्रॉपर्टी में बाद में उसे भी हक देना पड़ता इसलिए बच्चे का पैदा होते ही कत्ल कर दिया गया। क्यों मां ही बन रही है अपने बच्चे की कातिल?लगातार इस तरह की घटनाएं सामने आ रही हैं। वजह चाहे जो भी हो, लेकिन कैसे कोई मां बच्चे को नौ महीने अपने गर्भ में रखकर उसे पैदा होते ही मार सकती है। आखिर उस बच्चे का क्या दोष, जो पैदा होते ही उसे इतनी बड़ी सजा दी जाए। ये न सिर्फ कानूनी रूप से अपराध है बल्कि ऐसी महिलाएं समाज के लिए बेहद खतरनाक हैं।