MP: सड़क पर 4000 से ज्यादा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, बच्चों को गोद में लेकर हक की लड़ाई लड़ने को मजबूर

शाजापुर में आज महिला बाल विकास विभाग के संयुक्त मोर्चा संघ के बैनर तले हजारों की संख्या में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका सड़कों पर उतरी और विरोध प्रदर्शन किया. थाली बजाते हुए हाथों में तख्तियां लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका और सुपरवाइजर ने शहर के प्रमुख मार्गो पर विशाल रैली निकाली. इतनी बड़ी तादाद में महिला कर्मचारियों के सड़क पर उतरने से ट्रेफिक पाइंट पर जाम के हालात बन गए और सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गई. जाम खुलवाने के लिए यातायात अमले को खासी मशक्कत करनी पड़ी.

प्रदर्शन कर रही आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का कहना था कि वह वेतन वृद्धि नियमितीकरण सहित अपनी 6 सूत्रीय मांगों को लेकर लंबे समय से प्रदर्शन कर रही है लेकिन उनकी मांग पर अब तक सरकार ने ध्यान नहीं दिया है जब तक मांगे नहीं मानी जाती हड़ताल जारी रहेगी. वहीं इस हड़ताल के चलते जिले की सभी आंगनवाड़ी केंद्रों पर ताले लटके हैं और महिला बाल विकास विभाग की अन्य योजनाओं के साथ हाल ही में शुरू हुई लाडली बहन योजना भी प्रभावित हो रही है. महिला बाल विकास विभाग की सुपरवाइजर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका सभी इस समय काम बंद कर हड़ताल पर हैं.
कई दिन से चल रहा विरोध मगर सरकार नींद में!
हजारों की संख्या में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सड़कों पर अपने नौनिहाल बच्चों को लेकर उतरी. कई दिनों से आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा हड़ताल की जा रही है लेकिन अभी तक किसी प्रकार का आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को सरकार से जवाब नहीं मिल पाया है. विगत कई दिनों से आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के द्वारा सरकार के खिलाफ अपनी 6 सूत्री मांगों को लेकर विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं लेकिन अभी तक कोई अधिकारी इनकी सुध लेने तक नहीं पहुंचा है.

ये भी पढ़ें- MP: तीर-कमान छोड़ 40 गांव के 450 लोगों ने किया सरेंडर, हथियार न उठाने की खाई कसम

वहींं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता है नए-नए तरीके से अपना विरोध जताते हुए दिखाई दी. कुछ दिनों पहले आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने शायरी हाईवे एनएच 52 जाम कर थाली बजाते हुए खूब विरोध किया.
सरकार को बड़े आंदोलन की दी चेतावनी
जिला अध्यक्ष कामिनी सिंह ने कहा कि विगत कई दिनों से हम हड़ताल पर हैं, लेकिन अभी तक कोई अधिकारी हमारी सुध लेने तक नहीं पहुंचा है. उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की सामूहिक हड़ताल चल रही है. ताला बंद, हड़ताल हम लोगों के द्वारा की जा रही है. सरकार ने हमारी मांगे नहीं मानी, जिसको लेकर पूरे प्रदेश में आज रैली निकाली जा रही है. करीब साड़े तीन हजार कार्यकर्ता सड़कों पर आज उतरी हैं. हमारी 6 सूत्री मांगे हैं और हम लोगों के हड़ताल पर जाने से लाडली लक्ष्मी योजना भी प्रभावित हो रही है. उन्होंने चेतावली देते हुए कहा कि अगर सरकार ने समय रहते उनकी मांगे नहीं मानी तो वे बड़े आंदोलन को मजबूर होंगे, जिसकी जिम्मेदारी पूरी तरह से सरकार की होगी.

ये भी पढ़ें- Indore: लव जिहाद और धर्मांतरण पर ज्यादा एक्टिव हो, तेरा सिर तन से जुदा कर देंगे VHP नेता को मिली धमकी