मोदी सरकार ने उठाया ये कदम, सोनिया गांधी ने किया स्वागत

केंद्र द्वारा पूर्व प्रधान मंत्री पीवी नरसिम्हा राव को मरणोपरांत भारत रत्न से सम्मानित किए जाने के बाद, कांग्रेस नेता सोनिया गांधी ने कहा कि वह इस कदम का स्वागत करती हैं। दिवंगत प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव को भारत रत्न देने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा मैं इसका स्वागत करती हूं। सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नासिम्हा राव के अलावा पूर्व प्रधानमंत्रियों चौधरी चरण सिंह और कृषि वैज्ञानिक एमएस स्वामीनाथन को भी मरणोपरांत भारत रत्न से सम्मानित किया है, जिन्हें भारत की ‘हरित क्रांति’ में अग्रणी भूमिका के लिए जाना जाता है।इसे भी पढ़ें: श्वेत पत्र पर बहस: निर्मला सीतारमण बोलीं- मोदी सरकार ने ‘राष्ट्र प्रथम’ रखकर संकट की स्थिति से देश को निकालानरसिम्हा राव: आर्थिक विकास के नए युग को बढ़ावा दियापीवी नरसिम्हा राव के पोते एनवी सुभाष ने कहा कि पूर्व पीएम के योगदान को लंबे समय तक नजरअंदाज किया गया। एनवी सुभाष ने कहा कि मैं वास्तव में बहुत खुश हूं कि नरसिम्हा राव जी को भारत रत्न मिला है। मैं बहुत खुश हूं और पीएम मोदी का आभारी हूं। उनके योगदान को मान्यता दी गई है। एक्स पर प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि नरसिम्हा राव का “दूरदर्शी नेतृत्व” भारत को आर्थिक रूप से उन्नत बनाने, देश की समृद्धि और विकास के लिए एक ठोस नींव रखने में सहायक था।इसे भी पढ़ें: Forgotten PM बनाने की कांग्रेसी कोशिश को धूमिल करती मोदी सरकार, इकनॉमिक पालिसी में बदलाव, न्यूक्लियर बम वाला दांव, देश नरसिम्हा राव को कुछ यूं याद करता रहता हैप्रधानमंत्री के रूप में नरसिम्हा राव गारू का कार्यकाल महत्वपूर्ण उपायों द्वारा चिह्नित किया गया था जिसने भारत को वैश्विक बाजारों के लिए खोल दिया, जिससे आर्थिक विकास के एक नए युग को बढ़ावा मिला। इसके अलावा, भारत की विदेश नीति, भाषा और शिक्षा क्षेत्रों में उनका योगदान एक ऐसे नेता के रूप में उनकी बहुमुखी विरासत को रेखांकित करता है, जिन्होंने न केवल महत्वपूर्ण परिवर्तनों के माध्यम से भारत को आगे बढ़ाया बल्कि इसकी सांस्कृतिक और बौद्धिक विरासत को भी समृद्ध किया।