सच हो गई मौसम विभाग की भविष्यवाणी! दिल्ली-एनसीआर में सुबह घने कोहरे के बाद दोपहर में हल्की बारिश

नई दिल्ली : दिल्ली-एनसीआर में सुबह घने कोहरे के बाद दोपहर होते-होते कई इलाकों में हल्की बारिश हुई। बारिश की वजह से पारा और लुढ़क गया है। मौसम विभाग के मुताबिक, गुरुवार को भी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने पहले ही 31 जनवरी को बारिश की भविष्यवाणी कर रखी थी। इसके अलावा 1 फरवरी को हल्की बारिश और 3 फरवरी को भी हल्की बूंदाबांदी का पुर्वानुमान है। बारिश की वजह से सुबह-सुबह छाने वाले घने कोहरे से मुक्ति मिल सकती है। दिल्ली-एनसीआर में तकरीबन 2 महीने बाद बारिश हुई है। इससे पहले नवंबर में यहां बारिश हुई थी। इस बीच, जम्मू-कश्मीर के पहाड़ों पर हल्की बर्फबारी और मैदानी इलाकों में बारिश हुई है। मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तराखंड और हिमाचल में भी पहाड़ी इलाकों पर भारी बर्फबारी देखने को मिल सकती है। इसका असर उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में भी देखने को मिल सकता है जहां पारा और ज्यादा लुढ़क सकता है। सुबह घना कोहरा, कुछ मीटर भी देखना था मुश्किलदिल्ली-एनसीआर में बुधवार को सुबह-सुबह घना कोहरा छाया रहा। सड़कों पर गाड़ियां रेंग रही थीं। विजिबिलिटी जीरो थी। कोहरा इतना घना था कि कुछ मीटर तक भी दिखाई नहीं दे रहा था। मौसम विभाग के मुताबिक बुधवार को दिल्ली में न्यूनतम तापमान 7.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो इस मौसम के औसत से एक डिग्री कम है। दिन के लिए आईएमडी के पूर्वानुमान से पता चला है कि अधिकतम तापमान 21 डिग्री और न्यूनतम 7 डिग्री के आसपास रहने की संभावना है। सुबह, दिल्ली और इसके आसपास के इलाके घने कोहरे से ढके रहे, जिससे विजिबिलिटी शून्य हो गई और सड़क, रेल और हवाई यात्रा बुरी तरह प्रभावित हुई। दिल्ली के कई स्टेशनों पर हवा की गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ श्रेणी में बनी रही। तमाम स्टेशनों पर यह ‘गंभीर’ श्रेणी में भी देखी गई। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार, आनंद विहार इलाके में सुबह 9 बजे पीएम 2.5 का स्तर ‘बहुत खराब’ श्रेणी में 396 दर्ज किया गया और पीएम 10 का स्तर 306 पर पहुंच गया। शून्य और 50 के बीच वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) को ‘अच्छा’ माना जाता है, 51 और 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 और 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 और 300 ‘खराब’, 301 और 400 ‘बहुत खराब’ और 401 और 500 ‘गंभीर’ माना जाता है। इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पीएम 2.5 का स्तर 333 और पीएम 10 का स्तर 205 दर्ज किया गया। द्वारका सेक्टर 8 में पीएम 2.5 का स्तर 388 और पीएम 10 का स्तर 269 रहा, दोनों क्रमशः ‘बहुत खराब’ और ‘खराब’ श्रेणी में आते हैं। जम्मू-कश्मीर के पहाड़ों पर हल्की बर्फबारी, मैदानी इलाकों में बारिशबुधवार को जम्मू-कश्मीर में पहाड़ियों पर हल्की बर्फबारी और मैदानी इलाकों में बारिश हुई। मौसम विभाग ने अगले 36 घंटों में जम्मू-कश्मीर के ऊंचे इलाकों में भारी बर्फबारी और मैदानी इलाकों में हल्की से मध्यम बर्फबारी/बारिश की भविष्यवाणी की है। श्रीनगर में बुधवार को न्यूनतम तापमान 2.2, गुलमर्ग में माइनस 3.2 और पहलगाम में 0.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। लद्दाख क्षेत्र के लेह शहर में न्यूनतम तापमान शून्य से 6.2 डिग्री नीचे और कारगिल में शून्य से 3.7 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। जम्मू शहर में न्यूनतम तापमान 10.9, कटरा में 8.7, बटोट में 3, भद्रवाह में 1.2 और बनिहाल में 1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।(एजेंसियों से इनपुट के साथ)