मर्सिडीज में लगी आग और जिंदा जल गया मैनेजर, नोएडा वाले हादसे में आखिर हुआ क्या

नोएडा: उत्तर प्रदेश के नोएडा एक्सप्रेसवे के सर्विस लेन पर मर्सिडीज बेंज कार के दुर्घटनाग्रस्त होने का मामला सामने आया है। नोएडा सेंट्रल जोन के थाना फेज टू स्थित सेक्टर 93 के एल्डिको चौराहे पर देर रात भीषण हादसा हुआ। मर्सिडीज कार अनियंत्रित होकर पहले डिवाइडर और फिर पेड़ से टकरा गई। इस हादसे में कार में आग लग गई। मर्सिडीज कार चालक के जिंदा जलने से मौत हो गई है। सूचना मिलते ही पुलिस की टीम ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। इस मामले में पुलिस की जांच शुरू हो गई है। क्या अनुज शेरावत ने गाड़ी चलाते समय शराब पी रखी थी? इस सवाल का जवाब भी ढूंढ़ा जा रहा है। पुलिस को कार के अंदर से शराब की बोतल के टूटे हुए टुकड़े मिले थे। उन्होंने कहा कि दुर्घटना सेक्टर 93 में एल्डेको गोलचक्कर के पास करीब 1.30 बजे हुई।कार चालक अनुज शेरावत तलाक के बाद से सेक्टर 168 के हाउसिंग सोसाइटी में चले गए थे। उनके माता-पिता दिल्ली के रोहिणी में रहते हैं। कार में आग लगने के बाद रास्ते पर मौजूद लोगों ने अनुज को बाहर निकालने का प्रयास किया। कार का दरवाजा जाम होने के कारण उसे बाहर निकालना संभव नहीं हो सका। नोएडा सेंट्रल के एसीपी अमित सिंह ने कहा कि देर 1.30 बजे के बाद हमें एक राहगीर का फोन आया कि एक मर्सिडीज कार डिवाइडर से टकरा गई। उसमें आग लग गई। फेज 2 पुलिस स्टेशन और फायर ब्रिगेड की एक टीम मौके पर पहुंच गई। करीब 10 मिनट में आग पर काबू पा लिया गया।

कार का दरवाजा हो गया था जाम

मुख्य अग्निशमन अधिकारी प्रदीप कुमार चौबे ने कहा कि कार से दुर्घटना में घायल व्यक्ति को बाहर लाया गया था। कुछ लोगों ने कार में आग लगने से पहले उसे बाहर निकालने की कोशिश की थी, लेकिन दरवाजे जाम होने के कारण ऐसा नहीं हो सका। अनुज को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, लेकिन वहां पहुंचने पर उसे मृत घोषित कर दिया गया। अमित सिंह ने कहा कि वह एक दोस्त से मिलने के बाद दिल्ली से लौट रहा था। शव का पोस्टमार्टम किया गया और इसे परिवार को सौंप दिया गया। पुलिस ने कहा कि अनुज फरीदाबाद में निर्माण उपकरण बनाने वाली एक निजी कंपनी के साथ काम करता था।

कार की गति काफी तेज होने का मामला

फेज 2 थाने के एसएचओ परमहंस तिवारी ने कहा कि एक्सप्रेसवे पर अपनी कार चला रहे कुछ लोगों ने शिकायत की थी कि मर्सिडीज तेज गति से उनके पास से गुजरी थी। मामले में बुधवार देर शाम तक पुलिस में कोई तहरीर नहीं दी गई थी। पुलिस सूत्रों ने कहा कि गाड़ी को तेजी से चलाया जा रहा था। इसने एक्सप्रेसवे पर कई कारों को ओवरटेक किया था। सर्विस लेन पर आते ही कार चालक ने गाड़ी पर नियंत्रण खो दिया। कार डिवाइडर से टकराई। इसके बाद पेड़ से टकराई और गाड़ी में आग लग गई। कई लोगों ने अपने मोबाइल फोन से इसका वीडियो बनाया। पुलिस ने लोगों की परेशानी को देखते हुए जली हुई मर्सीडीज को हटा दिया। परमहंस तिवारी ने हम यह पता लगाने के लिए पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं कि क्या कार चालक शराब के नशे में था? हमें यह भी जानने की जरूरत है कि क्या कार चालक जलकर मारा गया या फिर चोटों के कारण दम तोड़ दिया। कार के अंदर शराब की बोतल के टूटे हुए टुकड़े थे।

शाम को हुई थी बेटे से बात

अनुज के पिता राजपाल शेरावत ने कहा कि उन्होंने शाम को ही अपने बेटे से बात की थी। राजपाल ने कहा कि यह एक सामान्य बातचीत थी। वह हाल ही में नोएडा में शिफ्ट हुआ था। मुझे दिल्ली के प्रशांत विहार पुलिस स्टेशन से फोन आया, जिसमें मुझे दुर्घटना की जानकारी दी गई। अपने तलाक के बाद से अनुज नोएडा सेक्टर 168 में एक हाउसिंग सोसाइटी में रह रहे थे। उनकी कोई संतान नहीं थी। हाल के समय में महंगी एसयूवी के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद आग लगने का मामला सामने आया है। पिछले दिनों उत्तराखंड के रुड़की के पास स्टार क्रिकेटर ऋषभ पंत की कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी। इस एक्सिडेंट में वे बाल-बाल बचे। लेकिन, कार जलकर खाक हो गई थी।