Mario Zagallo Demise: ब्राजील ने महान फुटबॉलर मारियो जगालो को अंतिम विदाई दी

खिलाड़ियों और कोचों ने रविवार को ब्राजील में महान फुटबॉलर मारियो जगालो को अंतिम विदाई दी जब एक खिलाड़ी और मैनेजर दोनों के रूप में विश्व कप जीतने वाले पहले व्यक्ति को रियो डी जिनेरियो कब्रिस्तान में दफनाया गया।
जगालो ने अपने स्वभाव और कौशल से वैश्विक स्तर पर लोकप्रियता हासिल की। रविवार को श्रद्धांजलि की शुरुआत सार्वजनिक सभा के साथ हुई और ब्राजीलियाई फुटबॉल परिसंघ (सीबीएफ) के संग्रहालय में दोस्तों और परिवार की मौजूदगी में निजी तौर पर अंतिम संस्कार हुआ।
बाद में उनके ताबूत को एक दमकल गाड़ी पर रियो ले जाया गया। यह ताबूत फुटबॉल की वैश्विक संचालन संस्था फीफा, दक्षिण अमेरिकी फुटबॉल संस्था कोनमेबोल और सीबीएफ के झंडों से ढका हुआ था।
साओ जोआओ बतिस्ता कब्रिस्तान में पहुंचने पर ताबूत पर केवल ब्राजील का राष्ट्रीय ध्वज था। इस दौरान परिवार के सदस्यों के साथ दर्जनों प्रशंसक और महान फुटबॉल काफू जैसे पूर्व खिलाड़ी जगालो को विदाई देने पहुंचे।
जगालो ने खिलाड़ी के रूप में 1958 और 1962 में दो विश्व कप जीते। वह 1970 में कोच और 1994 में सहायक कोच के रूप में भी विश्व कप जीतने में सफल रहे।
शुक्रवार देर रात 92 साल की उम्र में कई अंगों के काम करना बंद करने के कारण उनका निधन हो गया था। स्थानीय मीडिया ने बताया कि क्रिसमस के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।