Rahulको अयोग्य ठहराये जाने को लेकर मनीष तिवारी और मणिकम टैगोर ने कार्यस्थगन के नोटिस दिए

नयी दिल्ली। कांग्रेस सांसदों मनीष तिवारी और मणिकम टैगोर ने पार्टी के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी को लोकसभा की सदस्यता से अयोग्य ठहराए जाने पर सदन में चर्चा की मांग करते हुए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को कार्यस्थगन के नोटिस दिए हैं। तिवारी ने अपने नोटिस में कहा है कि राहुल गांधी को जल्दबाजी में अयोग्य ठहराया जाना स्वाभाविक न्याय के सिद्धांत के विरुद्ध है और यह संविधान के प्रावधानों के भी खिलाफ है। उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष से आग्रह किया कि सदन में राहुल गांधी को अयोग्य ठहराए जाने से संबंधित विषय पर चर्चा होनी चाहिए। टैगोर ने भी राहुल गांधी को अयोग्य ठहराए जाने के विषय पर सदन में चर्चा की मांग की है।इसे भी पढ़ें: Agra Jail में भाईचारा, नवरात्रि का वत्र कर रहे मुसलमान बंदी, हिंदू रख रहे रोजाकेरल की वायनाड संसदीय सीट का प्रतिनिधित्व कर रहे राहुल गांधी को सूरत की एक अदालत द्वारा वर्ष 2019 के मानहानि के एक मामले में सजा सुनाये जाने के मद्देनजर शुक्रवार को लोकसभा की सदस्यता से अयोग्य ठहरा दिया गया था। उल्लेखनीय है कि सूरत की एक अदालत ने ‘‘मोदी उपनाम’’ संबंधी टिप्पणी को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ 2019 में दर्ज आपराधिक मानहानि के एक मामले में उन्हें बृहस्पतिवार को दोषी ठहराया तथा दो साल कारावास की सजा सुनाई थी।