Mandsaur: गांधी सागर वन्य अभ्यारण में छोड़े गए चीतल-हिरन; शाजापुर, राजगढ़, भोपाल से लाए जाएंगे शाकाहारी पशु

गांधी सागर अभ्यारण्य में चीतों के पुनर्स्थापना के पूर्व शाकाहारी वन्य प्राणियों की संख्या बढ़ाने के लिए पशुओं को स्थानांतरित किया जा रहा है, ताकि चीतों के शिकार के लिए पर्याप्त मात्रा में भोजन उपलब्ध हो सके।