एक वाहन से टक्कर टालने के लिए कार चालक के अचानक ब्रेक लगाने से ममता के माथे पर चोट लगी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के माथे पर बुधवार को यहां उस समय चोट लग गई जब उनकी कार के चालक को एक अन्य वाहन से टकराने से बचाने के लिए अचानक ब्रेक लगाना पड़ा।
एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ममता बनर्जी कार में आगे, चालक के बगल में बैठी थीं और उनका माथा सामने के शीशे से टकरा गया।
यह हादसा उस समय हुआ जब ममता पूर्वी बर्द्धमान में प्रशासनिक समीक्षा बैठक के बाद कोलकाता लौट रही थीं। बाद में शाम को वह राज्यपाल सीवी आनंद बोस से मिलने राजभवन गयीं।
मुख्यमंत्री ने कहा, अचानक, एक कार तेजी से हमारे सामने आ गई। भगवान की कृपा से, मैं बच गयी क्योंकि मेरा ड्राइवर सतर्क था। मुझे अच्छा महसूस नहीं हो रहा है क्योंकि मुझे दर्द और सूजन है। मैंने कुछ दवाइयां ली हैं।
उन्होंने कहा, कभी-कभी, लोग गाड़ियों का दुरुपयोग करते हैं; ऐसा तब भी हुआ था जब बीएसएफ जवान होने का नाटक करने वाले एक व्यक्ति को मेरे आवास के बाहर पकड़ा गया था। पुलिस आज की घटना की जांच कर रही है। मैं इस पर और कोई टिप्पणी नहीं करूंगी।
ममता बनर्जी को पिछले साल जून में उत्तर बंगाल के सिवोके में हेलीकॉप्टर से उतरते समय घुटने में चोट लग गई थी। सितंबर में उनके बाएं घुटने के लिगामेंट में एक और चोट लगी थी और उन्हें माइक्रो-सर्जरी करानी पड़ी थी। 2021 के विधानसभा चुनाव से पहले, उनके एक पैर की हड्डी टूट गई थी और उन्होंने व्हीलचेयर से चुनाव प्रचार किया था।
इस बीच, कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने ममता के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।
रमेश इस समय राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ के साथ असम में हैं। उन्होंने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर कहा, “हमने एक कार दुर्घटना में ममता बनर्जी जी को चोट लगने के बारे में अभी सुना। हम उनके पूर्ण एवं शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं। भारत जोड़ो न्याय यात्रा के कल देर सुबह तक पश्चिम बंगाल में प्रवेश करने की उम्मीद है। 26 और 27 जनवरी को अवकाश रखा गया है। यात्रा 28 तारीख को फिर शुरू होगी।’’
ममता बनर्जी के लिए रमेश का यह संदेश मुख्यमंत्री द्वारा राज्य में आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ने की घोषणा के बीच आया है।