अभिषेक बनर्जी से पुछताछ को लेकर भड़कीं ममता बनर्जी, कहा- मेरी पार्टी और परिवार के पीछे पड़ी है भाजपा

सीबीआई ने शनिवार को तृणमूल कांग्रेस के महासचिव अभिषेक बनर्जी को शिक्षक भर्ती घोटाला मामले में पूछताछ के लिए तलब किया है। जानकारी के मुताबिक अभिषेक बनर्जी इस पूछताछ में शामिल होंगे। लेकिन इस को लेकर राजनीति तेज हो गई है। ममता बनर्जी ने सीधे तौर पर केंद्र की भाजपा पर निशाना साधा है। उन्होंने साफ तौर पर कहा है कि भाजपा मेरी पार्टी और परिवार के पीछे पड़ी हुई है। इसके साथ ही उन्होंने हुंकार भरते हुए कहा कि ना हम डरे हैं ना हम आगे डरेंगे। दरअसल, ममता बनर्जी बांकुड़ा एक रैली को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित कर रही थीं। इसे भी पढ़ें: Karnataka: सिद्धारमैया के शपथ ग्रहण में होगा विपक्ष का शक्ति परीक्षण, इन नेताओं को भेजा गया बुलावा, केजरीवाल से दूरीममता ने सीधा-सीधा आरोप लगाया कि अभिषेक को सीबीआई द्वारा समन भेजे जाने के पीछे भाजपा का हाथ है। उन्होंने दावा किया कि भाजपा हमारे अभियान की सफलता से भयभीत है। उन्होंने यह भी कहा कि जबतक भाजपा केन्द्र से बेदखल नहीं हो जाती उसकी निरंकुशता के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी। इससे पहले अभिषेक बनर्जी ने संवाददाताओं से पुष्टि की कि मैं आज रात कोलकाता लौट रहा हूं। इसके साथ ही उन्होंने भाजपा पर निशाना साधा। अभिषेक बनर्जी ने कहा कि मैं जनता के अलावा किसी के सामने अपना सिर नहीं झुकाऊंगा। भाजपा जनसंपर्क अभियान को मिल रहे जनता के समर्थन से डरती है। सीबीआई ने मुझे बुलाया है, क्योंकि वे (भाजपा) चाहते हैं कि यह जनसंपर्क अभियान बंद हो जाए। इसे भी पढ़ें: Sourav Ganguly को लेकर ममता सरकार ने लिया बड़ा फैसला, दी जाएगी जेड श्रेणी की सुरक्षाअभिषेक ने सीबीआई को चुनौती देते हुए कहा कि यदि उनके पास मेरे खिलाफ भ्रष्टाचार का कोई सबूत है तो वह मुझे गिरफ्तार करें। वे पिछले कई साल से बंगाल में कई मामलों की जांच कर रहे हैं। यदि उनके पास मेरे खिलाफ कोई सबूत है तो उन्हें मुझे गिरफ्तार करना चाहिए। बनर्जी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर टीएमसी के चल रहे जनसंपर्क अभियान को रोकने के लिए केंद्रीय एजेंसी का उपयोग करने का आरोप लगाया और साथ ही यह भी कहा कि भाजपा कार्यक्रम को मिल रहे ‘‘जनता के समर्थन से डर गई है।’’