महुआ मोइत्रा का स्पीकर पर आरोप, कहा- केवल BJP मंत्रियों को ही मिल रहा बोलने का मौका, लोकतंत्र पर हमला

तृणमूल कांग्रेस सांसद महुआ मोइत्रा ने गुरुवार को आरोप लगाया कि लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला केवल बीजेपी सांसदों को सदन में बोलने की अनुमति देते हैं और फिर सदन को स्थगित कर देते हैं। वो विपक्षी सांसदों को बोलने नहीं देते। उन्होंने ट्विटर पर कहा, पिछले 3 दिनों में स्पीकर ने केवल बीजेपी के मंत्रियों को माइक पर बोलने की अनुमति दी है और फिर संसद को स्थगित कर दिया, एक भी विपक्षी सदस्य को बोलने की अनुमति नहीं दी गई। उन्होंने आगे कहा कि लोकतंत्र पर हमला हो रहा है और इसका नेतृत्व स्पीकर कर रहे हैं। मैं इस ट्वीट के लिए जेल जाने को तैयार हूं। इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, ‘बीजेपी खुद हंगामा कर रही है। बीजेपी वाले साजिश करते है रोज, हमारे देश में छुआछूत है, अगर कोई बाहर जाकर इसके बारे में बात करे तो क्या झूठ है, गलत बात तो नहीं है। दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने भी बीजेपी पर आऱोप लगाए हैं और आज स्थगन प्रस्ताव का नोटिस पेश किया है।वहीं कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि बीजेपी संसद को सुचारू रूप से नहीं चलने दे रही, उसे वहां अडानी का मुद्दा उठने का डर है। खेड़ा ने कहा, जब भी कांग्रेस अडानी का मुद्दा उठाती है, और जेपीसी जांच की मांग करती है, वो ध्यान भटकाने के लिए संसद नहीं चलने देते। भाजपा डरी हुई है कि कोई भी गौतम अडानी का नाम संसद में उठा देगा।अडानी मामले में संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) की जांच की मांग को लेकर कांग्रेस के नेतृत्व वाला विपक्ष संसद में विरोध कर रहा है, हालांकि सत्ता पक्ष कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के बयान पर माफी मांगने की मांग कर रहा है।