LIVE: किसानों के प्रदर्शन से दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर चक्का जाम, ऑफिस से निकलने से पहले पढ़ लीजिए ये खबर

नई दिल्ली: अपनी अलग-अलग मांगों को लेकर किसान एक बार फिर सड़कों पर उतर आए हैं। किसानों के इस महाकूच से दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर संग्राम मचा हुआ है। दिल्ली-नोएडा, चिल्ला बॉर्डर पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। नोएडा से दिल्ली जाने वाले डीएनडी, चिल्ला और कालिंदी कुंज बॉर्डर पर जाम ही जाम है। संसद की ओर मार्च कर रहे किसानों को दिल्ली के इन्हीं बॉर्डरों पर बैरिकेडिंग लगाकर रोक दिया गया है। दिल्ली और यूपी पुलिस दोनों के जवान तैनात हैं। किसानों के दिल्ली कूच को देखते हुए दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने ट्रैफिक को लेकर एडवाइजरी जारी की है। नोएडा ट्रैफिक पुलिस की ओर से हेल्पलाइन हेल्पलाइन नं०-9971009001 जारी किया गया है। पढ़िए किसानों के आंदोलन से जुड़ी हर अपडेटमहामाया फ्लाईओवर में क्या हाल?संसद की ओर मार्च कर रहे उत्तर प्रदेश के किसानों को पुलिस ने नोएडा के महामाया फ्लाईओवर के पास रोका गया है। किसानों की भारी भीड़ दलित प्रेरणा स्थल के पास जमा है। हालांकि पुलिस ने बैरिकेडिंग की मदद से किसानों की भीड़ को कंट्रोल किया हुआ है। बता दें कि दलित प्रेरणा स्थल नोएडा सेक्टर 18 जाने वाली रोड में पड़ता है। ऐसे में सेक्टर-18 से ग्रेटर नोएडा जाने वाले लोगों के लिए जाम की स्थिति बन सकती है। वहीं ग्रेटर नोएडा से दिल्ली या सेक्टर-18 आने वाले लोगों के लिए भी मुश्किल हो सकती है। नोएडा सेक्टर-18 से न्यू अशोक नगर जाने वाले रास्ते पर भयानक जामनोएडा सेक्टर-18 से सेक्टर-16, सेक्टर-15 होते हुए न्यू अशोक नगर जाने वाले रास्ते पर भी भयंकर जाम लगा हुआ है। वाहन रेंग-रेंग कर चल रहे हैं। जाम में फंसे एक शख्स ने बताया कि वो पिछले आधे घंटे से ट्रैफिक में फंसे हुए हैं। उनका कहना है कि 20 मिनट से तो गाड़ी एक ही जगह खड़ी हुई है। ये रास्ता सेक्टर-15 होकर दिल्ली-नोएडा चिल्ला बॉर्डर तक जाता है। वहां सुबह से ही जाम लगा हुआ है, ऐसे में दिल्ली जाने वाले लोग न्यू अशोक नगर होकर दिल्ली जा रहे हैं, ऐसे में इस रास्ते पर भी जाम लग गया है। चिल्ला बॉर्डर के ताजा हालात क्या?किसानों का हुजूम पूर्वी दिल्ली में चिल्ला बॉर्डर के पास भी बढ़ रहा है। दिल्ली पुलिस बॉर्डर के आसपास की स्थिति पर नजर रखे हुए है। किसानों ने दिल्ली-चिल्ला बॉर्डर की ओर से भी संसद की ओर मार्च करते हुए जा सकते हैं। दोपहर करीब 12.50 बजे दिल्ली पुलिस ने कुछ ड्रोन शॉट भी लिए हैं।रुकते-थमते ऑफिस पहुंचे लोगकिसानों के दिल्ली मार्च के मद्देनजर आज सुबह से ही दिल्ली-एनसीआर के कई मुख्य रास्तों पर ट्रैफिक जाम देखने को मिला। दिल्ली से नोएडा आने वाले लोग रुकते थमते ऑफिस पहुंचे। वहीं गाजियाबाद से दिल्ली जाने वाले लोग भी यूपी गेट और एनएच-9 में जाम से जूझते नजर आए। गाजियाबाद में जीटी रोड और मोहन नगर रोड पर ट्रैफिक काफी स्लो है। उधर नोएडा 62 से सेक्टर-18 की तरफ जाने वाले रास्ते पर भी सुबह से ट्रैफिक रुक-रुक कर आगे बढ़ गया है। किसानों के दिल्ली में प्रवेश के चलते बॉर्डर एरिया में दिल्ली पुलिस की बेरेकेडिंग के चलते ट्रैफिक प्रभावित, जीटी रोड, यूपी गेट, महाराजपुर और ज्ञानी बॉर्डर की तरफ सुबह से जाम में वाहन फंस रहे। इंदिरापुरम के इंटर्नल रास्तों पर भी ट्रैफिक का दबाव रहा। गौर चौराहे पर ट्रैफिक में लोग फंसे रहे।कहां-कहां लग सकता है जाम दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की तरफ कहा गया कि आज सोनिया विहार, डीएनडी, चिल्ला, गाजीपुर, सभापुर, अप्सरा और लोनी बॉर्डर से जुड़े मार्गों पर भारी ट्रैफिक रहेगा। इसके अनुसार ही अपनी यात्रा टालें/योजना बनाएं। किसानों के दिल्ली बढ़ने के कारण एक्सप्रेस वे और दिल्ली आने वाले रास्तों पर ट्रैफिक जाम की समस्या हो सकती है। हालांकि, गौतम बुद्ध नगर जिले में कमिश्नरेट की तरफ से गुरुवार को धारा-144 लागू रहेगी। ऐसे में बिना अनुमति के कहीं पर भीड़ के जुटने या शांतिभंग की आशंका में पुलिस की तरफ से ऐक्शन लिया जा सकता है।नोएडा-गाज़ियाबाद से दिल्ली आने के रास्तों पर भारी जाम। नोएडा में डायवर्जन प्लानकिसान महामाया फ्लाईओवर के पास से एकत्रित होकर दिल्ली की तरफ कूच करेंगे। ऐसे में एक्सप्रेस वे और दिल्ली आने वाले रास्तों पर भारी ट्रैफिक की आशंका है। इसके लिए सेक्टर-94 चरखा गोलचक्कर से बॉटनिकल गार्डन और फिर न्यू अशोक नगर की तरफ से दिल्ली की तरफ निकल सकते हैं। यदि किसान चिल्ला की तरफ बढ़ते हैं तो ट्रैफिक को डीएनडी से निकाला जाएगा। अगर किसान डीएनडी की तरफ बढ़ते हैं चिल्ला बॉर्डर से ट्रैफिक गुजरेगा।सेक्टर-1 गोल चक्कर व झुंडपुरा के बीच उद्योग मार्ग पर जाने वाला ट्रैफिक को रोकने की योजना है। इस रास्ते का ट्रैफिक रजनीगंधा चौराहे से सेक्टर-12-22-56 की तरफ से निकलेगा। झुंडुपुरा की तरफ से सेक्टर-1 गोल चक्कर की तरफ आने वाला ट्रैफिक सीधे स्टेडियम चौराहा और फिर वहां से रजनीगंधा होकर निकाला जाएगा।