LIVE:उद्धव गुट को बड़ा झटका! फैसला सुना रहे स्पीकर बोले- उद्धव के पास नहीं था शिंदे को हटाने का अधिकार

मुंबई : महाराष्ट्र विधानसभा के स्पीकर चार बजे 16 शिवसेना विधायकों की अयोग्यता पर फैसला लेंगे। फैसले से पहले दो गुटों में जुबानी जंग शुरू हो चुकी है। शिवसेना नेता संजय राउत ने आरोप लगाया है कि विधायकों की योग्यता पर फैसला पहले ही दिल्ली में लिया जा चुका है और इसे पढ़ना महज औपचारिकता है।5:33 PM – असली शिवसेना कौन?असली शिवसेना कौन है? शिवसेना का 1999 का संविधान ही मान्य है। चुनाव आयोग के रेकॉर्ड में ही शिंदे गुट ही असली शिवसेना है। शिवसेना (उद्धव गुट) ने पार्टी का संविधान पेश नहीं किया है। 21 जून 2022 को जो हुआ, उसे समझना होगा। शिवसेना के दोनों गुट असली होने का दावा कर रहे हैं। चुनाव आयोग के रेकॉर्ड में दिए गए शिवसेना का नेतृत्व स्ट्रक्चर के आधार पर फैसला लिया गया। 2013 के बाद से शिवसेना का चुनाव नहीं हुए, इसलिए 1999 के संविधान को मान्य किया गया। 2018 का संविधान संशोधन मान्य नहीं है। मेरा अधिकार क्षेत्र सीमित है, चुनाव आयोग के रेकॉर्ड से आगे नहीं जा सकता है।5: 27 PM – शिवसेना के संविधान और व्हिप के आधार पर फैसलाशिंदे गुट की याचिका पर पहले सुनवाई करते हुए स्पीकर ने कहा कि कौन असली शिवसेना है? इसका फैसला शिवसेना के संविधान और व्हिप के आधार पर किया गया। इसी आधार पर ही अयोग्यता पर भी फैसला किया। शिवसेना के संविधान पर दोनों पक्षों पर भरोसा जताया है। संशोधित संविधान चुनाव आयोग के रेकॉर्ड में नहीं है। शिवसेना का 1999 का संविधान ही मान्य है।5:17 PM – स्पीकर ने जताया सुप्रीम कोर्ट का आभारस्पीकर राहुल नार्वेकर अपना फैसला सुना रहे हैं। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट का आभार जताया। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने हमे दिशा-निर्देश दिया। मेरे पास 6 समूहों के तौर पर याचिका आईं, इसलिए वह हर ग्रुप के हिसाब से फैसला दे रहे हैं। 5:06 PM – स्पीकर राहुल नार्वेकर अपनी लीगल टीम के साथ फैसले की टिप्पणियों पर चर्चा कर रहे हैं। इस कारण फैसले में देरी हो रही है। उधर, फैसले से पहले सीएम शिंदे ने हिंगोली में कहा कि हमारे साथ बाला साहेब ठाकरे का आशीर्वाद है। पार्टी के पास धनुष-बाण ही है। 4:54 – फैसले से पहले अलर्ट, शिंदे के आवास पर बढ़ाई सुरक्षासीएम शिंदे के आवास पर सुरक्षा कड़ी गई। हंगामे की आशंका के मद्देनजर फैसले से पहले ठाणे समेत पूरे प्रदेश में अलर्ट किया गया। 4:49 – विधानसभा सेक्रेटरी को अध्यक्ष ने ऑफिस में बुलायाअभी अपने ऑफिस में विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर फैसले पर चर्चा कर रहे हैं। विधानसभा के सेक्रेटरी को बुलाकर फैसले के बारे में राय ली। जल्द ही सेंट्रल हॉल में आकर अपने फैसले का ऐलान करेंगे। 4:42 – सेंट्रल हॉल में होगी सुनवाईविधानसभा के सेंट्रल हॉल में स्पीकर कार्यवाही का संचालन करेंगे। शिंदे गुट के विधायक और मंत्री जय श्री राम के नारे लगाते हुए विधानसभा पहुंचे। हिंगोली में जनसभा को संबोधित कर रहे हैं।4:20 PM – विधानसभा में शिवसेना के दोनों गुटों के नेता पहुंचेफैसले की घड़ी अब नजदीक आ गई है। विधानसभा में शिंदे और उद्धव गुट के नेता पहुंच गए हैं। स्पीकर नार्वेकर थोड़ी देर में करेंगे फैसले सुनाने की कार्यवाही शुरू करेंगे। फैसले का लाइव प्रसारण भी किया जाएगा। 3:41 PM – देश के लिए मिसाल बनेगा फैसला महाराष्ट्र विधानसभा के स्पीकर राहुल नार्वेकर ने कहा कि आज सुप्रीम कोर्ट के सिद्धांतों के मुताबिक फैसला होगा। देश के लिए यह फैसला मिसाल बनेगा। थोड़ी देर बाद स्पीकर राहुल नार्वेकर एकनाथ शिंदे, संजय सिरसाट,यामिनी जाधव, महेश शिंदे, अब्दुल सत्तार, गोगावाले, अनिल बाबरी, संजय रायमुनकरी, चिमनराव पाटिल, तानाजी सावंत, रमेश बोनारे, लता सोनवणे, प्रकाश सर्वे,बालाजी कल्याणकारी, बालाजी किनीकारो, संदीपन भुमरे के भाग्य का फैसला करेंगे। 3 :31 PM – हमारे हक में होगा फैसला – महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे अभी स्पीकर राहुल नार्वेकर का फैसला आने में करीब आधा घंटा बाकी है। इस बीच सीएम एकनाथ शिंदे ने उम्मीद जताई है कि अयोग्यता के विवाद में फैसला उनके गुट के हक में आएगा। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट पहले ही हमारे पक्ष में फैसला दे चुका है। 3:15 PM – स्पीकर लोकतंत्र का पालन कर रहे हैं या नहीं, आज पता चल जाएगा- आदित्य ठाकरे16 शिवसेना विधायकों के अयोग्यता मामले में फैसले से पहले आदित्य ठाकरे ने भी महाराष्ट्र विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर और मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के मुलाकात पर आपत्ति जताई है। आदित्य ठाकरे ने कहा है कि जज ही आरोपी के पास जा रहे हैं। इतिहास में पहले ऐसा कभी नहीं हुआ। जूनियर ठाकरे ने कहा कि आज स्पीकर का फैसला किसी एक पार्टी से ज्यादा देश के लिए महत्वपूर्ण होगा। देश के नागरिक होने के नाते फैसला काफी महत्वपूर्ण है। लोगों को पता चल जाएगा कि स्पीकर लोकतंत्र का पालन कर रहे हैं या नहीं।3:00 PM – सीएम एकनाथ शिंदे से मुलाकात पर अब खुद विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर ने सफाई दी है। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री के बयान की आलोचना की। राहुल नार्वेकर ने कहा कि उद्धव पूर्व सीएम रह चुके हैं, उन्हें स्पीकर की भूमिका के बारे में पता होना चाहिए। विधानसभा अध्यक्ष कई कामों के लिए सीएम से मिलते हैं। स्पीकर ने 7 जनवरी को सीएम से उनके वर्षा बंगले में मुलाकात की थी। संजय राउत का आरोप, पहले ही दिल्ली में हो चुकी है मैच फिक्सिंगशिवसेना विधायक अयोग्यता के फैसले से पहले शिवसेना (यूबीटी गुट) सांसद संजय राउत ने पीएम मोदी के 12 जनवरी को होने वाले महाराष्ट्र दौरे पर सवाल उठाया। संजय राउत ने कहा कि पीएम मोदी को स्पीकर के फैसले के बारे में पहले से जानकारी है। पीएम मोदी को भरोसा है कि महाराष्ट्र में उनकी सरकार बनी रहेगी। दिल्ली से मुंबई तक मैच फिक्सिंग हो चुकी है। उन्होंने कहा कि एकनाथ शिंदे अवैध सरकार चला रहे हैं। हमारे लिए यह अपराध है। शिवसेना नेता ने सीएम शिंदे और स्पीकर राहुल नार्वेकर की मुलाकात पर भी सवाल उठाया। संजय राउत ने इस मीटिंग पर टिप्पणी करते हुए कहा कि ‘न्यायाधीश फैसले से पहले आरोपियों से मिलने जा रहे हैं’। राउत ने कहा कि यह मैच फिक्सिंग है। बता दें कि 15 दिसंबर, 2023 को सुप्रीम कोर्ट ने शिवसेना के विधायकों की अयोग्यता संबंधित याचिकाओं पर फैसला सुनाने के लिए स्पीकर के 10 जनवरी तक समय दिया था। शिंदे का जवाब, हम हैं असली शिवसेना, हमारी सरकार अवैध नहीं संजय राउत के बयान के बाद मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे का जवाब भी आया। उन्होंने कहा कि 7 जनवरी को उन्होंने स्पीकर राहुल नार्वेकर से मुलाकात की थी, वह कोई मैच फिक्सिंग नहीं थी। सीएम शिंदे ने कहा कि विपक्षी दल भ्रम फैला रहे हैं। अगर मैच फिक्सिंग करनी होती तो वह दिन के उजाले में स्पीकर से मुलाकात क्यों करते। सीएम ने साफ किया कि वह अपने विधानसभा क्षेत्र में चल रहे परियोजना पर चर्चा के लिए विधानसभा अध्यक्ष से मिले थे। संजय राउत के अवैध सरकार वाले बयान का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि इलेक्शन कमिशन ने शिवसेना का चुनाव चिह्न उन्हें आवंटित किया है। असली शिवसेना ही सरकार चला रही है और यह सरकार अवैध नहीं है।