रामलला के दर्शन करने रोजाना लाखों भक्त पहुँच रहे हैं Ayodhya, CM Yogi ने रामनगरी की व्यवस्थाओं की समीक्षा की

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज अयोध्या पहुँच कर श्रद्धालुओं के लिए की गयी व्यवस्थाओं का जायजा लिया और संतों से बातचीत कर उनकी प्रतिक्रिया भी जानी। अयोध्या पहुँचने पर मुख्यमंत्री योगी ने सबसे पहले हनुमानगढ़ी के दर्शन-पूजन किए। संकट मोचन हनुमान के दर्शन कर सीएम योगी आदित्यनाथ ने सुखी-स्वस्थ उत्तर प्रदेश की कामना की। इसके बाद मुख्यमंत्री ने श्रीरामलला के दर्शन किये। मुख्यमंत्री ने इस दौरान यहां पर श्रद्धालुओं के लिए की गई सभी व्यवस्थाओं का जायजा लिया। रामनगरी पहुंचने पर स्थानीय जनप्रतिनिधियों व प्रशासनिक अधिकारियों ने सीएम योगी आदित्यनाथ का स्वागत किया। हम आपको बता दें कि जनवरी माह में सीएम योगी का रामनगरी का यह छठवां दौरा है। इससे पहले मुख्यमंत्री 9 जनवरी, 14 जनवरी, 19 जनवरी, 21-22 जनवरी और 23 जनवरी को अयोध्या पहुंचे थे। आज मुख्यमंत्री ने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के पदाधिकारियों से मंदिर परिसर में व्यवस्थाओं के संदर्भ में ना केवल जानकारी ली, बल्कि खुद जमीनी स्तर पर व्यवस्थाओं को परखा और आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये। सीएम योगी ने इस दौरान दर्शनार्थियों से भी बातचीत करके फीडबैक लिया।  इसे भी पढ़ें: Mathura-Kashi के मंदिरों की राह में Places of Worship Act 1991 आखिर कैसे बाधा बनकर खड़ा हो गया है? क्यों इसका रद्द होना जरूरी है?हम आपको बता दें कि हनुमानगढ़ी में दर्शन-पूजन के उपरांत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रामलला के दर्शन-पूजन किए। वहीं मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं से व्यवस्था की जानकारी ली। सीएम योगी ने रामलला के मंदिर में भी प्रभु श्रीराम से प्रदेशवासियों के सुख और समृद्धि की कामना की। हम आपको यह भी बता दें कि अयोध्या में देशभर से भक्तों का आना जारी है। 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद से रोजाना लाखों भक्त रामलला के दर्शन कर रहे हैं।