फिंगर या रिस्ट स्पिनर्स, जड्डू-सुंदर का हाजमा बिगाड़ने को तैयार ‘कुलचा’, अब वनडे सीरीज की बारी

मुंबई: टेस्ट सीरीज फतह के बाद अब इंडियन टीम की निगाहें वनडे श्रृंखला पर हैं, जिसकी शुरुआत 17 मार्च से वानखेड़े स्टेडियम में होने वाली है। पहले मैच में रोहित शर्मा नहीं खेलेंगे, जिसके चलते कप्तानी हार्दिक पंड्या करेंगे। कार्यवाहक कप्तान पंड्या ने टीम के कई खिलाड़ियों संग बुधवार को वानखेड़े स्टेडियम में प्रैक्टिस की। प्लेइंग इलेवन में दो रिस्ट स्पिनर्स का मुकाबला दो फिंगर्स स्पिनर्स है, एक तरफ कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की जोड़ी है तो दूसरी ओर ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा और वाशिंगटन सुंदर हैं।तीन वनडे मैच की वनडे सीरीज में कुलदीप और चहल अपनी गुगली, फ्लिपर और लेग ब्रेक का कमाल दिखाकर इस साल होने वाले विश्व कप के लिए अपना दावा मजबूत करना चाहेंगे। कुलदीप और चहल दोनों ही बल्लेबाजी करने में माहिर नहीं हैं। हालांकि बाएं हाथ के कलाई के स्पिनर कुलदीप को टेस्ट स्तर पर बल्लेबाजी में कुछ हद तक सफलता मिली है। वाशिंगटन और जडेजा की गेंदबाजी और बल्लेबाजी दोनों में अच्छी पकड़ है, लेकिन अगर स्पिन कौशल की बात की जाए तो कुलदीप और चहल उनसे आगे हैं। तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज, जयदेव उनादकट, उमरान मलिक, शार्दुल ठाकुर और बल्लेबाजों में सूर्यकुमार यादव और विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन ने भी प्रैक्टिस सेशन में हिस्सा लिया। भारत के हेड कोच राहुल द्रविड़ अभ्यास सत्र में शामिल नहीं हुए, लेकिन कोचिंग स्टाफ के अन्य सदस्य बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़, क्षेत्ररक्षण कोच टी. दिलीप और गेंदबाजी कोच पारस म्हाम्ब्रे, थ्रोडाउन विशेषज्ञ राघवेंद्र और नुवान सेनेविरत्ने उपस्थित थे। बल्लेबाजी में नंबर पांच और विकेटकीपिंग की जिम्मेदारियों के लिए भारत की पहली पसंद केएल राहुल ने भी अभ्यास में भाग नहीं लिया, उन्हें नागपुर और नई दिल्ली में खेले गए पहले दो टेस्ट मैचों के बाद अंतिम एकादश में जगह नहीं दी गई थी। श्रृंखला के लिए उप कप्तान नियुक्त किए गए पंड्या ने गेंदबाजी का अभ्यास किया। सूर्यकुमार, किशन और पंड्या ने बल्लेबाजी का लंबे समय तक अभ्यास किया। इंदौर में तीसरे टेस्ट तक खेलने वाले सिराज ने भी स्पिनरों और तेज गेंदबाजों के सामने बल्लेबाजी में काफी समय बिताया। ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने भी दोपहर बाद अभ्यास सत्र में हिस्सा लिया।