आयुर्वेद में इस दाल के हैं खास मायने, फायदे जानकर आप भी रह जाएंगे हैरान

#gallery-2 {
margin: auto;
}
#gallery-2 .gallery-item {
float: left;
margin-top: 10px;
text-align: center;
width: 100%;
}
#gallery-2 img {
border: 2px solid #cfcfcf;
}
#gallery-2 .gallery-caption {
margin-left: 0;
}
/* see gallery_shortcode() in wp-includes/media.php */

दालें हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होती हैं. इनमें प्रोटीन की अच्छी मात्रा पाई जाती है. बता दें कि वेजिटेरियन लोगों को प्रोटीन की कमी पूरी करने के लिए ज्यादा से ज्यादा दालें खाने की सलाह दी जाती है. इन्हीं दालों में से एक है मूंग की दाल, जो कई तरह से हमारे शरीर के लिए फायदेमंद है.

कई तरह के पोषक तत्त्वों से भरपूर होने के अलावा, ये पचाने में भी बहुत हल्की होती है और आयुर्वेद में इसे सात्विक भोजन माना जाता है. मूंग की दाल आयरन, पोटेशियम, अमीनो एसिड और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है.

बता दें कि मूंग की दाल इम्युनिटी बढ़ाने में मदद करती है. यह शरीर के कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करती है. मूंग की दाल लिवर के लिए भी अच्छी मानी जाती है.

डायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में भी ये दाल मददगार होती है. मूंग दाल के पाउडर को फेस पैक के रूप में लगाने से स्किन में चमक आती है और मुंहासे, एक्जिमा व खुजली से राहत मिलती है.

सेंसिटिव स्किन वाले लोग केमिकल वाले साबुन के ऑप्शन के रूप में मूंग दाल के पाउडर का इस्तेमाल कर सकते हैं. मूंग दाल के पाउडर को फेस पैक के रूप में लगाने से स्किन में चमक आती है.