दिल्‍ली के सदर बाजार की ‘मटके वाली गली’, यहां क्‍या-क्‍या मिलता है? शॉपिंग की दिलचस्‍प लोकेशन जानिए

नई दिल्‍ली: सदर बाजार, होलसेल में खरीदारी करनी है तो दिल्‍ली में यह सबसे मुफीद जगह है। यहां अलग-अलग तरह की छोटी-छोटी मार्केट्स हैं। घर के सामान से लेकर खिलौने, कॉस्‍मेटिक्‍स जूलरी, स्‍टेशनरी का सबसे बड़ा कलेक्‍शन यहीं पर मिलेगा। पुरानी दिल्‍ली का सदर बाजार राजधानी के सबसे बिजली मार्केट्स में से एक है। इसी बाजार में एक गली है ‘मटके वाली गली’ जहां आपको काम की हर चीजें मिलेंगी। सदर बाजार की ‘मटके वाली गली’ में आपको बैग, कपड़ों से लेकर आर्टिफिशियल जूलरी, कॉस्‍मेटिक्‍स, सजावट का सामान सस्‍ते में मिल जाएगा। इसी गली में पहले मटके बिका करते थे। धीरे-धीरे वह कारोबार खत्‍म हो गया और कॉस्‍मेटिक्‍स की दुकानें बढ़ती चली गईं। आज आप मटके वाली गली में घुसेंगे तो सदर बाजार या चांदनी चौक जैसी पुरानी दिल्‍ली की गलियों से फर्क नहीं कर पाएंगे।सदर बाजार में हर त्योहार का माल बिकता है। सीजन के हिसाब से होलसेल बिजनेस होता है। होली, दीपावली, रक्षा बंधन, करवा चौथ, जन्माष्टमी, ईद और शादी-ब्याह के अवसर पर सभी आवश्यक सामान मिलता है। यही वजह है कि सदर में हमेशा भीड़ रहती है।सदर बाजार, दिल्‍ली में कहां है मटके वाली गली? मटके वाली गली जाएं तो संभलकरसदर बाजार में में आसपास के शहरों के अलावा असम, मणिपुर, पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार और झारखंड जैसे शहरों के व्यापारी भी माल खरीदने आते हैं। सदर बाजार में आपको पुरानी दिल्‍ली के बाकी बाजारों जैसी भीड़ देखने को मिलेंगी। सस्‍ता सामान मिलता है तो परेशानियां भी वही हैं। व्‍यापारियों के अनुसार, मार्केट में मोबाइल और पैसा छीनना आम बात हो गई है। ‘मटके वाली गली’ में भी गंदगी का अंबार लगा है। सदर बाजार दिल्‍ली की सबसे बड़ी कमर्शल मार्केट है। सालभर पहले शिवाजी रोड के ठीक पास गली जटवाड़ा में एमसीडी ने 25 दुकानें सील कर दी थीं। फेडरेशन ऑफ सदर बाजार ट्रेडर्स असोसिएशन के चेयरमैन परमजीत सिंह पम्मा ने बताया कि सदर बाजार में दुकानों को सील हुए 1 महीने से ऊपर हो गया है। अब तक कोई राहत नहीं मिलने पर व्यापारियों को जंतर मंतर पर आकर प्रदर्शन करना पड़ा।