केके पाठक की बिहार से हो गई छुट्टी, केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर जाएंगे नीतीश के खास अफसर

पटना: बिहार की नीतीश कुमार सरकार ने शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव (एसीएस) को केंद्र में प्रतिनियुक्ति पर भेजने का फैसला किया है। केके पाठक ने खुद केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर जाने को लेकर को चिट्ठी लिखी थी। इस पर बिहार सरकार ने मंजूरी दे दी है। केके पाठक के बिहार से जाने के बाद उनके स्थान पर कौन शिक्षा विभाग का नया अपर मुख्य सचिव (एसीएस) होगा, यह अभी तय नहीं हुआ है।केके पाठक ने जून 2023 में शिक्षा विभाग के एसीएस के रूप में पदभार संभाला था। उनकी कार्यशैली को लेकर राज्यपाल, तत्कालीन शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर और उनकी पार्टी आरजेडी के विधायक समेत कई लोग नाराज चल रहे थे। सत्ता से आरजेडी के हटने के बाद भी केके पाठक लगातार शिक्षा व्यवस्था में सुधार करने को लेकर कदम उठाते रहे। उनके फैसलों के कारण राजभवन से भी टकराव होता रहा। फिलहाल केके पाठक का स्कूलों की टाइमिंग को लेकर बिहार सरकार से टकराव हो गया था।जाते-जाते केके पाठक ने कुलपतियों के सैलरी पर लगाई रोक बिहार से जाते-जाते केके पाठक ने राज्य के सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों की सैलरी पर रोक लगा दी। इसको लेकर शिक्षा विभाग के सचिव वैद्यनाथ यादव ने चिट्ठी जारी कर 28 फरवरी को शिक्षा विभाग की बैठक में शामिल नहीं होने वाले विश्वविद्यालयों के अधिकारियों से जवाब मांगा है। साथ ही उन सभी के वेतन पर रोक लगा दी है।केके पाठक के जाने से शिक्षा विभाग में होगा बड़ा बदलाव केके पाठक के केंद्र में प्रतिनियुक्ति पर जाने से बिहार के शिक्षा विभाग में बड़ा बदलाव होगा। उनके स्थान पर कौन नया एसीएस होगा, यह अभी तय नहीं हुआ है।