Karnataka: एचडी कुमारस्वामी को भरोसा, चुनाव में राष्ट्रीय दलों को खारिज करगी जनता, JDS के पक्ष में होगा मतदान

कर्नाटक में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मियां लगातार बढ़ी हुई हैं। कर्नाटक में आज चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया गया। इसके साथ ही वहां पर आचार संहिता भी लागू हो गया। कर्नाटक में अभी भाजपा की सरकार है। भाजपा कर्नाटक में सत्ता वापसी के लिए पूरी ताकत लगा रही है तो वहीं कांग्रेस से भी दमखम दिखाने की कोशिश में है। कर्नाटक में मुख्य मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच माना जा रहा है। हालांकि, जनता दल सेकुलर कर्नाटक में अपना दबदबा रखती है। यही कारण है कि जनता दल सेकुलर के नेता एचडी कुमारस्वामी को इस बात का भरोसा है कि इस बार कर्नाटक के लोग उनकी पार्टी के पक्ष में मतदान करेंगे।  इसे भी पढ़ें: Karnataka Assembly Election: जहां मोदी सरनेम को लेकर दिया था विवादित बयान, अब उसी जगह 5 अप्रैल को रैली करेंगे राहुल गांधीएचडी कुमारस्वामी ने अपने बयान में कहा कि कन्नडिगाओं ने एक क्षेत्रीय पार्टी का चुनाव करने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि इस बार वे दोनों राष्ट्रीय दलों को खारिज कर देंगे। उन्होंने कहा कि हम मई में कर्नाटक चुनाव कराने के ईसीआई के फैसले का स्वागत करते हैं। ईसीआई ने एकल चरण में चुनाव कराने की घोषणा की क्योंकि कर्नाटक एक शांतिपूर्ण राज्य है। मैंने 70% से अधिक चुनाव प्रचार समाप्त कर लिया है। कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2023 पर राज्य कांग्रेस के अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने कहा कि 10 मई सिर्फ मतदान का दिन ही नहीं होगा बल्कि यह भ्रष्टाचार को खत्म करने का दिन होग। 40% कमीशन राजधानी का भ्रष्टाचार 10 मई को कर्नाटक के लोगों द्वारा खत्म किया जाएगा।  इसे भी पढ़ें: Karnataka: येदियुरप्पा के बहाने कांग्रेस का भाजपा पर निशाना, केसी वेणुगोपाल बोले- यूज एंड थ्रो पॉलिसी को समझेंगे लोगकर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई ने कहा कि चुनाव आयोग ने तारीखों का ऐलान कर दिया है। 10 मई को मतदान होगा और 13 मई को नतीजे आएंगे। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि बीजेपी एवररेडी पार्टी है और हम चुनाव के लिए तैयार हैं। बीजेपी भारी बहुमत के साथ सत्ता में वापसी करने जा रही है। आपको बता दें कि कर्नाटक विधानसभा के लिए मतदान 10 मई को होंगे और मतदान की गणना 13 मई को होगी।