कर्नाटकः अपने ही आरक्षण के दांव में खुद फंसी BJP, बंजारों ने येदियुरप्पा के घर पर किया पथराव

कर्नाटक चुनाव से पहले आरक्षण में हेरफेर का दांव बीजेपी को ही उल्टा पड़ता दिख रहा है। बोम्मई सरकार द्वारा आंतरिक आरक्षण के आवंटन का विरोध कर रहे बंजारा समुदाय के सदस्यों ने सोमवार को शिवमोग्गा जिले के शिकारीपुरा शहर में पूर्व सीएम बी एस येदियुरप्पा के घर पर पथराव कर दिया। इसमें येदियुरप्पा के घर की खिड़कियों के शीशे टूट गए।प्रदर्शनकारियों ने कहा कि आंतरिक आरक्षण प्रदान करने में बंजारा समुदाय के साथ अन्याय हुआ है। उन्होंने बोम्मई सरकार के कदम का विरोध करने के लिए वहां लगे बीजेपी के पोस्टर और फ्लेक्स फाड़ दिए और सड़क पर टायरों में आग लगाकर जमकर नारेबाजी की।बंजारा समुदाय के विरोध-प्रदर्शन से इलाके में तनाव व्याप्त हो गया है।Sub-caste reservation announced by Karnataka CM Basavaraj Bommai leads to protests, with Banjaras, who are part of the SC list in Karnataka, vandalising former CM BS Yediyurappa’s residence in Shivamogga. ⁦@TheQuint⁩ pic.twitter.com/Ef9f1KWuRm— Nikhila Henry (@NikhilaHenry) March 27, 2023

इस दौरान पुलिस और आंदोलनकारियों के बीच हाथापाई शुरू हो गई। इस घटना में कुछ पुलिस अधिकारियों को मामूली चोटें आई हैं और उनका इलाज स्थानीय अस्पताल में चल रहा है। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इसके बावजूद विरोध शिकारीपुर के तालुक कार्यालय के सामने जारी रहा।इस घटना के बाद वरिष्ठ पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ अतिरिक्त पुलिस बल को मौके पर भेजा गया है। इलाके में अभी शांति है, लेकिन तनाव बरकारा है। इस बीच, पशुपालन मंत्री प्रभु चौहान ने कानून मंत्री जे.सी. मधुस्वामी को पत्र लिखकर उत्पीड़ित वर्गों के लिए आंतरिक आरक्षण पर अपनी आपत्ति व्यक्त की है।