अमेरिका का बिजनेस वीजा मिलने में लगेगा कम समय, जानें नए अपडेट के बारे में

अमेरिका जाकर व्यापार करने वालों के लिए खुश खबरी है। अमेरिकी वीजा अब व्यापारियों को पहले से कम समय में मिला करेगा। संभावना है कि अप्रैल से पहले ही इस व्यवस्था को लागू किया जाए। वहीं एच1बी वीजा को लेकर अमेरिका में काम करने वाले प्रोफेशनल के परिवारों को भी अमेरिका में ही वीजा रिन्यूअल की सुविधा दी जा सकती है। ये जानकारी एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी है। पीयूष गोयल और कैथरीना ताई के बीच हुई बैठकबता दें कि कुछ समय पहले ही वाणिज्य व उद्योग मंत्री पीयूष गोयल और अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि कैथरीन तेई के बीच बैठक हुई थी। इस बैठक में भारतीय कारोबारों को समय पर वीजा मिलने में आ रही दिक्कतों के बारे भारत ने अपनी चिंताएं साझा की थी। साथ ही अमेरिका से आग्रह भी किया था कि इस प्रक्रिया में तेजी लाई जानी चाहिए।  इस बैठक के बाद वाणिज्य मंत्रालय ने संबंधित बयान भी जारी किया है जिसमें कहा गया कि दोनों मंत्रियों ने स्वीकार किया कि देशों के बीच पेशेवर और कुशल श्रमिकों, छात्रों, निवेशकों और व्यापारिक आगंतुकों की आवाजाही द्विपक्षीय आर्थिक और तकनीकी साझेदारी को बढ़ाने में काफी योगदान देती है। इस दौरान पीयूष गोयल ने वीजा प्रोसेस में लगने वाले समय के कारण भारतीय व्यापारियों और कारोबारियों को आने वाली परेशानियों पर चर्चा की। बैठक में उन्होंने अमेरिका से अनुरोध किया कि इस प्रक्रिया में तेजी लाई जानी चाहिए। इस बैठक के संबंध में एक अधिकारी ने जानकारी दी कि भारत ने अमेरिका से वीजा के साथ भारतीय एच1बी वीजा पर भी चर्चा की है। भारतीयों को एच1बी वीजा को रिन्यू कराने के लिए भारत आना पड़ता है, जिससे उन्हें काफी परेशानी होती है। ऐसे में भारत ने अनुरोध किया है कि वीजा रिन्यू करने की स्थायी प्रक्रिया अमेरिका में ही बनाई जानी चाहिए ताकि पेशेवरों को इसके लिए भारत न आना पड़े। फिलहाल अमेरिका में इसके लिए ‘स्टेट साइड’ सुविधा एक प्रायोगिक कार्यक्रम के तहत चल रही है। ‘स्टेट-साइड’ सुविधा का मतलब है कि एच1बी वीजा वाला व्यक्ति इसे अमेरिका में ही नवीनीकृत करा सकता है।  अधिकारी ने ये कहा कि इस सुविधा को स्थायी बनाने पर काम किया जा रहा है। इस सुविधा को ना केवल मूल वीजाधारक बल्कि परिवार के लिए भी विस्तारित करने पर विचार कर रहे है। इससे परिवार को वीजा नवीनीकरण के लिए भारत वापस नहीं आना पड़ेगा।” इसके अलावा भारत ने अमेरिका से अनुरोध किया है कि वह भारत को ई1 और ई2 वीजा के लिए अनुमोदित संधि देश के रूप में मान्यता दे। ये वीजा व्यापारियों और निवेशकों के लिए जारी किए जाते हैं। फिलहाल भारत इस वीजा के लिए अमेरिका का अनुमोदित संधि देश नहीं है।  दोनों पक्षकारों ने भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय व्यापार को बढ़ावा देने में पेशेवर सेवाओं की भूमिका को भी स्वीकार किया। उन्होंने कहा कि पेशेवर योग्यता और अनुभव की मान्यता से संबंधित मुद्दे सेवा व्यापार को सुविधाजनक बना सकते हैं। बयान के मुताबिक, दोनों देश द्विपक्षीय व्यापार को बढ़ावा देने के उद्देश्य से गैर-शुल्क बाधाओं को कम करने के लिए एक तंत्र स्थापित करने पर सहमत हुए हैं।