‘सेना का अपमान करना कांग्रेस का चरित्र…’, राहुल के ‘भारत के जवानों को पीट रहा चीन’ बयान पर भड़के योगी

लखनऊः तवांग में टेंशन के बीच देश में सेना को लेकर एक बार फिर राजनीति गर्मा गई है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष तवांग के संदर्भ में भारतीय सेना पर एक बयान देकर विवादों में फंस गए हैं। भारतीय जनता पार्टी उन पर हमलावर हो गई है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने भी राहुल गांधी पर निशाना साधा है और कहा है कि वह हमेशा से भारत की बहादुर सेना को कटघरे में खड़ा करते रहे हैं। कांग्रेस और राहुल गांधी का यही चरित्र है। उनका यह बयान राष्ट्रविरोधी तत्वों को प्रेरित करने वाला है। राहुल ने तवांग को लेकर कहा था कि अरुणाचल प्रदेश में हिंदुस्तान के जवानों को चीन के सैनिक पीट रहे हैं।

राहुल के इस सवाल पर बवाल मच गया है। भारतीय जनता पार्टी के तमाम दिग्गज नेताओं ने उनके इस बयान की आलोचना की है। योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कहा कि राहुल गांधी का यह बयान अत्यंत अमर्यादित, बचकाना और राष्ट्रविरोधी तत्वों को प्रेरित करने वाला है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत और भारत की बहादुर सेना को अपमानित करने वाला है। हम उनके इस बयान की निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि ये बड़ा आश्चर्य है कि पूरी दुनिया इस बात को कह रही है कि भारत के बहादुर जवानों ने घुसपैठियों के कृत्यों को नाकाम किया है। वहीं भारत के उन बहादुर जवानों के पराक्रम और शौर्य का सम्मान करने की बजाय राहुल गांधी उन्हें कटघरे में खड़ा कर रहे हैं। मुझे लगता है कि यह कोई भी भारतीय स्वीकार नहीं करेगा।

योगी ने कहा कि यह पहली बार नहीं हुआ है। इससे पहले भी डोकलाम में जब घुसपैठ हुई थी, उस समय भी सेना के जवानों के शौर्य और पराक्रम का सम्मान करने की बजाय राहुल गांधी और कांग्रेस का चरित्र जगजाहिर था। वह चीनी दूतावास के साथ मिलकर भारत विरोधी कृत्यों को प्रश्रय दे रहे थे। ये अत्यंत शर्मनाक है। उनका बयान निंदनीय है। जब भी देश के सामने कोई चुनौती आती है, संकट आता है, तब उनका ये चरित्र पूरा देश इसी रूप में देखता है।

योगी ने कहा, ‘ये (राहुल गांधी) भारत को कटघरे में खड़ा करते हैं। भारत के बहादुर जवानों के शौर्य और पराक्रम पर उंगली उठाते हैं। हम कांग्रेस और राहुल गांधी की इस सोच की निंदा करते हैं और उनसे यह मांग करते हैं कि देश के बहादुर जवानों से माफी मांगें। देश को बार-बार कटघरे में खड़ा करने की अपनी बचकानी और अमर्यादित आचरण से उनको बचना चाहिए।’

बता दें कि अपनी भारत जोड़ो यात्रा के दौरान एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने तंज में कहा कि भारतीय मीडिया उनसे चीन के बारे में सवाल नहीं करेगा क्योंकि इससे मोदी सरकार कटघरे में खड़ी हो सकती है। उन्होंने व्यंग्य हंसी हसते हुए कहा, ‘मैं आपसे शर्त लगा रहा हूं कि प्रेस हमसे चीन पर सवाल नहीं करेगा। सब सवाल पूछेंगे। आगे-पीछे, दाएं-बाएं, सचिन पायलट, अशोक गहलोत… लेकिन चीन के बारे में एक सवाल नहीं पूछेंगे, जिन्होंने 2 हजार वर्गकिमी हिंदुस्तान का उठा लिया। जिन्होंने हिंदुस्तान के 20 जवानों को शहीद किया। जो हमारे जवानों को अरुणाचल प्रदेश में पीट रहे हैं।’ उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान की प्रेस मुझसे इनके बारे में एक सवाल नहीं पूछेगी।