Indore: मंदिर प्रबंधन 14 की मौत का जिम्मेदार! हादसे में जान गंवाने वाले 4 मृतकों की आंखें होंगी दान

इंदौर: भगवान राम का जन्मोत्सव यानी रामनवमी गुरुवार को बड़े ही धूमधाम से देश भर में मनाया गया. इसी बीच इंदौर के एक मंदिर में आयोजित हवन के दौरान पुरातन बावड़ी की छत अचानक धंस गई. जिसमें 30 से ज्यादा लोग 40 फीट गहरी बावड़ी में गिर गए. चीख पुकार सुन राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया. हादसे में 10 महिलाओं समेत 14 लोगों की मौत हो गई. वहीं, घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

वहीं, शुरुआती जांच में हादसे के पीछे मंदिर प्रबंधन की लापरवाही सामने आई है. बताया जा रहा है कि बावड़ी पर मंदिर निर्माण को लेकर एक साल पहले प्रशासन ने आपत्ति जताई थी. सरकार की आपत्ति के बाद भी मंदिर में निर्माण कराया जा रहा था. बिना स्वीकृति निर्माण हादसे का कारण बना है. चेतावनी के बाद भी मंदिर प्रबंधन ने अनदेखी की है. वहीं, घटना में जान गंवाने वालों में से 4 मृतकों की आंखें दान की जाएगी. मृतकों के परिजनों ने इसका ऐलान किया है. जिसमें भारती कुकरेजा, इंदर कुमार समेत अन्य दो मृतक शामिल हैं.

ये भी पढ़ें-MP: 4 साल बाद चालू हुई थी अस्पताल की लिफ्ट, फिर बीच में अटकी; 1 घंटे तक फंसे रहे मरीजों के तीमारदार
60 साल पुराना मंदिर, बावड़ी का नहीं हुआ कभी खुलासा
स्थानीय निवासी दिनेश माखीजा ने बताया कि 60 साल पुराने इस मंदिर में हर त्योहार पर भव्य आयोजन किया जाता रहा है. अभी पिछले दिनों ही शिवरात्रि पर एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया था, जिसमें कई लोगों ने हिस्सा भी लिया था. वहीं इस मंदिर का निर्माण पूर्व पार्षद सेवाराम गलानी ने कराया था. इस मंदिर में बचपन से दर्शन को आते रहे हैं, लेकिन अंदर बावड़ी होने की जानकारी तब लगी, जब आज हादसा हो गया.
मरने वालों को 5-5 लाख और घायलों को 50 हजार
उधर, प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने घटनास्थल का जायजा लिया और मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए औ घायलों को 50 हजार रुपए की मदद राशि दी है. वहीं, पीएम नरेंद्र मोदी ने भी सीएम शिवराज को फोन कर हादसे की जानकारी ली. साथ ही शोक भी व्यक्त किया है. उधर, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी इस हादसे पर दुख जताया है.
मरने वालों में ये शामिल

लक्ष्मी पटेल (70)
भारती कुकरेजा (58)
जयवंती खूबचंदानी(84)
दक्षा पटेल (60)
मधु भम्मानी (48)
मनीषा मोटवानी (40)
गंगा पटेल (58)
कनक पटेल (32)
पुष्पा पटेल (49)
भूमिका ख़ानचन्दानी (31)
इंद्र कुमार हरवानी (53)

ये भी पढे़ं-MP : मंदिर में पुजारी ने ली समाधि तो हरकत में आया प्रशासन, गड्ढा खोदकर बाहर निकलवाया