भारत की मुमताज खान को FIH का सर्वश्रेष्ठ उभरता हुआ खिलाड़ी चुना गया

भारत की फारवर्ड मुमताज खान को इस साल की शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका में जूनियर विश्व कप में देश के अभियान के दौरान उनकी शानदार भूमिका के लिए एफआईएच की साल की उभरती हुई सर्वश्रेष्ठ महिला खिलाड़ी चुना गया।
लखनऊ की रहने वाली 19 वर्षीय मुमताज ने अप्रैल में पोटचेफस्ट्रूम में भारत के चौथे स्थान पर रहने के दौरान छह मैच में हैट्रिक सहित आठ गोल किए थे। वह विश्व कप में सर्वाधिक गोल करने वालों की सूची में तीसरे स्थान पर रहीं थी। वह पूरे टूर्नामेंट में सिर्फ नीदरलैंड के खिलाफ एक मैच में गोल करने में विफल रही।
मुमताज ने इंग्लैंड के खिलाफ कांस्य पदक मुकाबले में 2-2 की बराबरी के दौरान भारत की ओर से दोनों गोल किए। भारत को हालांकि शूट आउट में हार के साथ चौथे स्थान से संतोष करना पड़ा।
मुमताज ने कहा, ‘‘मुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि मैंने यह पुरस्कार जीता है। साल भर में हमारी पूरी टीम की मेहनत रंग लाई है और मैं इसे अपनी टीम को समर्पित करती हूं।’’
उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह पुरस्कार एक संकेत है कि मैंने पिछले एक साल में प्रशिक्षण के दौरान जो कड़ी मेहनत की है उससे मुझे एक खिलाड़ी के रूप में बहुत सुधार करने में मदद मिली है। लेकिन यह मेरे करियर की शुरुआत है। मैं सीखने की प्रक्रिया जारी रखना चाहती हूं और अपने खेल में सुधार के लिए कड़ी मेहनत जारी रखूंगी।’’
विशेषज्ञों (40%), टीम (20%), प्रशंसकों (20%) और मीडिया (20%) के वोट के बाद मुमताज ने बेल्जियम की चार्लोट एंगलबर्ट को सिर्फ तीन अंक के अंतर से पछाड़ा। युवा भारतीय मुमताज को कुल 32.9 अंक मिले जबकि एंगलबर्ट 29.9 अंक के साथ दूसरे स्थान पर रहीं। नीदरलैंड की लूना फोके 16.9 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहीं।
मुमताज एफआईएच महिला हॉकी फाइव्स 2022 में भी भारत की शीर्ष गोल सकोरर थीं जहां उन्होंने मेजबान स्विट्जरलैंड के खिलाफ हैट्रिक सहित चार मैच में पांच गोल किए थे।
फ्रांस के टिमोथी क्लेमेंट को एफआईएच का साल का उभरता हुआ सर्वश्रेष्ठ पुरुष खिलाड़ी चुना गया।