तवांग में भारतीय सेना ने पार की थी सीमा, हमने रोका… चोरी के बाद सीनाजोरी पर उतरा चीन

बीजिंग: अरुणाचल प्रदेश के तवांग में सीमा पर हुई झड़प के बाद चीन अब सीनाजोरी पर उतर आया है। चीनी सेना ने बयान जारी कर आरोप लगाए हैं कि भारतीय सेना ने अवैध रूप से वास्तविक नियंत्रण रेखा को पार किया था। उनका यह भी दावा है कि चीनी सेना भारतीय सैनिकों के साथ पेशेवर और प्रभावी ढंग से पेश आई। चीन ने कहा कि वर्तमान में जमीन पर हालात स्थिर हैं और दोनों देशों की सेनाएं पीछे हट चुकी हैं। चीनी सेना के वेस्टर्न थिएटर कमांड के प्रवक्ता और वरिष्ठ कर्नल लॉन्ग शाओहुआ ने दावा किया कि भारतीय सेना के अवैध रूप से सीमा पार करने से गश्त को रोक दिया गया था। हमने इससे पेशेवर और प्रभावी ढंग से निपटा और जमीन पर हालात को स्थिर किया। वर्तमान में, चीन और भारत पीछे हट गए हैं। उन्होंने सीनाजोरी दिखाते हुए कहा कि हम भारतीय पक्ष से एलएसी पर तैनात सैनिकों को सख्ती से नियंत्रित करने और संयमित करने की अपील करते हैं। हम भारतीय पक्ष को सीमा पर शांति और शांति बनाए रखने के लिए चीन के साथ काम करने को भी कहते हैं।

राजनाथ सिंह ने भी संसद में दिया बयान

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संसद में चीनी सेना के साथ हुई झड़प पर बयान दिया है। उन्होंने कहा कि इस झड़प में कुछ भारतीय सैनिकों को चोटें आई हैं, लेकिन किसी भी सैनिक की मौत नहीं हुई है और न ही कोई गंभीर रूप से घायल हुआ है। राजनाथ ने बताया कि चीनी सैनिकों ने नौ दिसंबर 2022 को तवांग सेक्टर के यांग्त्से इलाक़े में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर अतिक्रमण कर यथास्थिति को एकतरफा रूप से बदलने का प्रयास किया। भारतीय सेना ने बहादुरी से चीनी सैनिकों को हमारे क्षेत्र में अतिक्रमण करने से रोका और उन्हें उनकी चौकी पर वापस जाने के लिए मजबूर कर दिया। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे को चीनी पक्ष के साथ कूटनीतिक स्तर पर भी उठाया गया है और इस तरह की कार्रवाई के लिये मना किया गया है।

चीनी विदेश मंत्रालय ने भी जारी किया बयान

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने यहां एक पत्रकार वार्ता में कहा कि दोनों पक्षों ने राजनयिक और सैन्य चैनलों के माध्यम से सीमा संबंधी मुद्दों पर सुचारू सपंर्क बनाए रखा है। हालांकि, वांग ने यांग्त्सी क्षेत्र में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच नौ दिसंबर को हुए संघर्ष का विवरण देने से इनकार किया। इस घटना के बारे में पूछे जाने पर वांग ने कहा कि जहां तक हमें पता है, चीन और भारत के बीच सीमा पर मौजूदा स्थिति सामान्यत: स्थिर है। आपने जिन विशिष्ट प्रश्नों का उल्लेख किया है, मेरा सुझाव है कि आप सक्षम अधिकारियों से संपर्क करें।