सहरसा कोर्ट परिसर में तीन अपराधियों ने मचाया तांडव, हत्या के आरोपी की कर दी गोली मारकर हत्या

पटना: बिहार के सहरसा जिला अदालत में अज्ञात हमलावरों के एक समूह ने विचाराधीन कैदी की गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या के आरोपी प्रभाकर कुमार को जिला अदालत में सुनवाई के लिए लाया गया था, तभी बाइक सवार चार हमलावरों ने उस पर फायरिंग कर दी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद हमलावर हवा में हथियार लहराते हुए कोर्ट परिसर से फरार होने में सफल रहे। जिला एसपी लिपि सिंह ने भी मौके का दौरा किया।वकीलों में दहशतजांच का नेतृत्व कर रहे एसडीपीओ सदर ने आईएएनएस को बताया कि चार हमलावर अदालत परिसर में आए और विचाराधीन कैदी पर गोलियां चला दीं। अधिकारी ने कहा, हम उनकी पहचान करने के लिए अदालत परिसर के सीसीटीवी फुटेज को स्कैन कर रहे हैं। घटना के बाद न्यायालय परिसर में अफरातफरी मच गई। घटना के बाद क्रिमिनल फरार हो गये। उसके बाद एक को किसी तरह पुलिस ने पकड़ लिया। इस वारदात के बाद कोर्ट में वकील काफी डरे हुए हैं। वकीलों का कहना है कि कभी भी कोई घटना हो सकती है।कोर्ट में अफरा-तफरी का माहौल पेशी के लिए लाए गये कैदी प्रभाकर कुमार पर जिले के बनगांव थाना में कांड संख्या 129/21 एवं कांड संख्या 130/21 दर्ज है। कैदी इस मामले का प्राथमिक अभियुक्त था। जिसकी कोर्ट में सुनवाई होनी थी। आरोपी को इलाके के तत्कालीन थानाध्यक्ष ने सहरसा-सुपौल मुख्य मार्ग पर चीना पुल के पास से अरेस्ट किया था। उसके बाद वो जेल भेजा गया। आज कोर्ट में उसे पेशी के लिए लाया गया था। घटना के वक्त कोर्ट में मौजूद पुलिसकर्मी ने बताया कि वे लोग कैदी को पेशी के बाद लेकर जा रहे थे। इसी दौरान सीढ़ी के पास तीन लड़कों ने गोली चलाना शुरू कर दिया। उन्होंने कैदी प्रभाकर को निशाना बनाया. करीब चार से पांच गोली चली होगी। गोली लगते ही कैदी की मौके पर मौत हो गई।एसपी पहुंची घटनास्थल पर कोर्ट में हुई इस घटना के बाद पुलिस में हड़कंप मच गया है। पुलिस पूरे मामले में जांच शुरू कर चुकी है और कोर्ट परिसर के सीसीटीवी को खंगाल रही है। कैदी की हत्या के बाद पुलिस की सुरक्षा पर सवाल खड़े होने लगे हैं। कोर्ट में वकीलों ने सुरक्षा बढ़ाने की मांग की है। वकीलों का कहना है कि ऐसा नहीं हुआ तो वे लोग आंदोलन करेंगे। वहीं दूसरी ओर एक आरोपी की गिरफ्तारी होने के बाद पुलिस को उम्मीद है कि उससे पूछताछ में सारी घटना का खुलासा हो जाएगा। आरोपी से फिलहाल पूछताछ की जा रही है। एसपी लिपि सिंह ने मीडिया को बताया है कि मामले की जांच जारी है। घटनास्थल से एक हथियार और पांच गोली बरामद की गई है। किसी भी आरोपी को छोड़ा नहीं जाएगा।