महाराष्ट्र के संभाजीनगर में दो गुटों में जबरदस्त हिंसा, पथराव और आगजनी, कई वाहनों को किया आग के हवाले

महाराष्ट्र के छत्रपति संभाजीनगर में दो गुटों में जबरदस्त हिंसा हुई है। पथराव के बाद कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि किराडपुरा इलाके में राम मंदिर के बाहर रात 12:30 बजे दो युवकों के बीच कहासुनी हुई। इसके बाद मौके पर बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए। देखते ही देखते दोनों गुट भिड़ गए और पथराव शुरू हो गया। इस दौरान उपद्रवियों ने कई वाहनों में आग लगा दी। बताया जा रहा है कि इस दौरान बमबाजी की भी घटना हुई।हिंसा की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। भीड़ को वहां से खदेड़ दिया। हालात को काबू करने के लिए इस दौरान पुलिस ने किराडपुरा इलाके में आंसू गैस के गोले भी छोड़े। वाहनों में लगी आग पर काबू पाने के लिए फायर ब्रिगेड की तीन गाड़ियां घटनास्थल पर पहुंचीं और आग पर काबू पाया गया। फिलहाल पुलिस ने इलाके में स्थिति को नियंत्रण कर लिया। पूरे इलाके में बड़ी संख्या में सुरक्षा कर्मियों की तैनाती की गई है।पुलिस आयुक्त निखिल गुप्ता ने कहा, “पथराव हुआ और पुलिस के कुछ वाहनों में आग लगाई गई। लोगों को तितर-बितर करने के लिए हमने बल प्रयोग किया, अभी स्थिति शांतिपूर्ण है। आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी, जांच जारी है।”स्थानीय सांसद इम्तियाज जलील किराडपुरा राम मंदिर में पहुंचे और उन्होंने बताया कि राम मंदिर में कोई भी मामला नहीं हुआ है। जो भी घटना हुई है वह राम मंदिर के बाहर ही हुई है।संभाजीनगर से आज सुबह की तस्वीरें आई है, जिसमें पुलिस कर्मी हिंसा वाली जगह को साफ करते हुए दिखे। फिलहाल शहर में शांति है। हिंसा के बाद इलाके में डर का माहौल है। सड़क पर बहुत कम लोगों की आवाजाही दिखे। महाराष्ट्र की पूर्व की उद्धव ठाकरे सरकार ने औरंगाबाद शहर का नाम बदलकर छत्रपति संभाजीनगर रखा था।