‘लोग वहां जाना बंद कर दें तो धंधा बंद हो जाएगा’… पंडित धीरेंद्र शास्त्री के गढ़ में चंद्रशेखर आजाद की ललकार

छतरपुर: बुंदेलखंड इलाके में हाल के दिनों में दलितों पर अत्याचार के कई मामले सामने आए हैं। इस बीच भीम आर्मी ने उस इलाके में पैंठ जमानी शुरू कर दी है। भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण (Chandrasekhar azad ravan) आज छतरपुर पहुंचे थे। उन्होंने नवभारत टाइम्स. ऑनलाइन के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत की है। बातचीत के दौरान हर सवाल के जवाब दिए हैं। साथ ही बागेश्वर धाम सरकार पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री को लेकर भी उनका जवाब आया है। रावण ने अपने लोगों से अपील की है कि वहां नहीं जाएं। चंद्रशेखर ने कहा कि देश को आजाद हुए आज 75 वर्ष हो गए है। उसके बाद भी देश का बहुजन समाज बुनियादी अधिकारों से वंचित है। इतने दिनों बाद भी अन्याय और अत्याचार का सामना करना पड़ रहा है। सरकारें आती है और बनती हैं। लोगों के सामने खोखले वादे करती हैं। देश का बहुजन अब जाग चुका है। अपने अधिकारों की मांग करने लगा है। बुंदेलखंड में भी दलितों पर अत्याचार वहीं, बुंदेलखंड में दलितों पर अत्याचार को लेकर चंद्रशेखर ने कहा कि जिनकी सरकार होती है, वह आरोपियों को संरक्षण देते हैं। इनका बुलडोजर भी जाति देखकर चलता है। बीजेपी सरकार दलित, पिछड़ों, आदिवासियों और मुसलमानों की खाल खींचने में लगी है। बीजेपी इस तरह के अन्याय अत्याचार में सबसे आगे है। इन्हीं को हम यह कहने आए हैं कि अब हम यह नहीं सहेंगे। हमारे लोग वहां नहीं जाएंइसके साथ ही बागेश्वर धाम सरकार को लेकर पूछे गए सवाल पर चंद्रशेखर ने कहा कि मुझे उनके बारे में कुछ नहीं कहना है। वह जो कर रहे हैं कि वह एक व्यापार है। हमारे लोग वहां जाते हैं, मैं तो कहता हूं कि हमारे लोग वहां जाना बंद कर दें। लोग वहां जाना बंद कर दें तो धंधा अपने आप बंद हो जाएगा। सभी सीटों पर लड़ेंगे चुनाव एमपी विधानसभा चुनाव को लेकर चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि आजाद समाजवाद पार्टी आने वाले चुनाव में पूरे दमखम के साथ उतरेगी। हम सभी दलितों को इकट्ठा कर सभी विधानसभाओं में चुनाव लड़ेंगे। गौरतलब है कि एमपी में दलितों के खिलाफ घटित घटनाओं में चंद्रशेखर लगातार एक्टिव हो रहे हैं। पिछले कुछ सालों में एमपी में उनकी गतिविधियां बढ़ी हैं। इसे भी पढ़ें