हावड़ा हिंसा: राज्यपाल बोस ने गठित की ‘स्पेशल सेल’, राज्य के मुख्य सचिव से मांगी रिपोर्ट

कोलकाता: हावड़ा में रामनवमी के दिन हावड़ा में हुई को लेकर राज्यपाल सी.वी आनंद बोस ने कड़ा एक्शन लिया है। हिंसा की घटना को लेकर के मद्देनजर पश्चिम बंगाल के राज्यपाल आनंद बोस ने एक नई मिसाल कायम की। हिंसा की घटनाओं की जानकारी के लिए राजभवन की ओर से विशेष प्रकोष्ठ खोला है। यहां तक कि हाल के दिनों में सिंगूर-नंदीग्राम जैसे के समय में भी राजभवन की तरफ से ऐसी कोई कार्रवाई नहीं की गई।

राजभवन की ओर से शुक्रवार शाम जारी बयान में बताया गया है कि राज्यपाल ने हावड़ा कांड पर राज्य के मुख्य सचिव से भी रिपोर्ट मांगी है। राज्यपाल आनंद ने यह भी कहा कि शुक्रवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ उनकी ‘निजी’ चर्चा हुई थी।

राजभवन सूत्रों ने बताया कि हावड़ा हिंसा घटना को लेकर लगातार शिकायतें सामने आ रही है। राजभवन की ओर से एक च एक विशेष गठित की है। इस विशेष कमेटी में पीड़ितों की शिकायत दर्ज की जाएगी। इसके साथ-साथ राज्यपाल सी.वी आनंदबोस मुख्य सचिव से मामले की रिपोर्ट भी मांगी है। हालांकि राजभवन से जारी बयान में कहा किसी भी रूप में हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगा।

मुख्य सचिव से मांगी रिपोर्ट पश्चिम बंगाल के राज्यपाल सी.वी. आनंद बोस ने रामनवमी की हिंसा की घटना को लेकर राज्य के मुख्य सचिव से रिपोर्ट मांगी है बजा देगी रामनवमी पर हावड़ा जिले में जमकर हिंसा हुई ऐसा कहा जा रहा है ऐसा कहा जा रहा है कि रामनवमी की शोभायात्रा जैसे ही शिवपुर के काजीपाड़ा पहुंची वहां लोगों पर पथराव होने लगा इसके बाद उसे इलाके में हिंसा की घटनाएं घटित ऐसा उपद्रवियों ने उपद्रवियों ने कई सारे वाहन जला दिए ऐसे में इस मामले ने तूल पकड़ लिया है पूरे देश भर में रामनवमी पर हुई हिंसा की निंदा की जा रही हैकेंद्रीय गृहमंत्री ने की बात हावड़ा जिले में रामनवमी पर हुई हिंसा का तनाव शुक्रवार को इलाके छाया रहा।

घटना को लेकर शुक्रवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का फोन राजभवन आया। उस फोन कॉल के बाद ममता से उनकी चर्चा हुई या नहीं, इस बारे में राज्यपाल ने कुछ नहीं कहा। हालांकि उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री से उनकी निजी बातचीत हुई है। राजभवन के बयान में हावड़ा घटना की निंदा की गई है। पुलिस की भूमिका की आलोचना भी हुई है।

रामनवमी पर हुई हिंसा को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी खुले तौर पर इसे साजिश बताया है। ममता बनर्जी ने कहा कि हावड़ा अशांति में पुलिस के एक वर्ग की ‘लापरवाही’ भी शामिल थी। उन्होंने यह भी कहा कि वह ‘दोषी’ पुलिस अधिकारियों के खिलाफ प्रशासनिक स्तर पर कार्रवाई करेंगे।

इस घटना पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा,’आप मुझ पर भरोसा करते हैं। मैं खुद मामले की जांच कर रही हूं। मैं किसी को कोई नुकसान नहीं होने दूंगी।’सुवेंदु अधिकारी ने की NIA जांच की मांग नेता सुवेंदु अधिकारी ने हावड़ा कांड की एनआईए जांच की मांग की है। उन्होंने शुक्रवार को हावड़ा कांड में घायलों के अस्पताल का दौरा किया। इसके बाद उन्होंने हावड़ा पुलिस कमिश्नरेट में एक सीडी जमा की। सुवेंदु का दावा है कि सीडी में असली दोषियों की तस्वीरें हैं।