पहले सुपर ओवर में ‘आउट’, फिर दूसरे में कैसे बैटिंग के लिए उतरे रोहित शर्मा, क्या कहते हैं नियम?

बेंगलुरु: भारत और अफगानिस्तान के बीच टी20 सीरीज का आखिरी मुकाबला सांसें रोकने वाला था। दो सुपर ओवर के बाद मैच का नतीजा निकल पाया। टी20 मैच का नतीजा 44वें ओवर में जाकर निकला। लेकिन इसे लेकर विवाद भी हो रहा है। भारतीय टीम के कप्तान पहले सुपर ओवर के आखिरी बॉल से पहले मैदान से बाहर चले गए। लेकिन दूसरे सुपर ओवर में वह फिर से बैटिंग करने आ गए। सुपर ओवर में कोई भी बल्लेबाज आउट होने के बाद नहीं खेल सकता है। क्या कहते हैं आईसीसी के नियम?बिना आउट हुए मैदान से बाहर जाने को लेकर आईसीसी का नियम क्या कहता है? नियम 25.4.2 के अनुसार यदि कोई बल्लेबाज बीमारी, चोट या किसी अन्य अपरिहार्य कारण से रिटायर हो जाता है, तो वह बल्लेबाज अपनी पारी फिर से शुरू करने का हकदार है। यदि किसी कारण से ऐसा नहीं होता है, तो उस बल्लेबाज को ‘रिटायर्ड – नॉट आउट’ के रूप में दर्ज किया जाएगा।अगले नियम 25.4.3 के अनुसार यदि कोई बल्लेबाज 25.4.2 के अलावा किसी अन्य कारण से रिटायर होता है, तो उस बल्लेबाज की पारी केवल विरोधी कप्तान की सहमति से फिर से शुरू की जा सकती है। यदि किसी कारण से उसकी पारी फिर से शुरू नहीं होती है, तो उस बल्लेबाज को ‘रिटायर्ड – आउट’ के रूप में दर्ज किया जाएगा।क्या अफगान के कप्तान से पूछा गया?नियम के अनुसार दूसरे सुपर ओवर में रोहित की दोबारा एंट्री इब्राहिम जादरान की सहमति से होनी चाहिए थी। लेकिन मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में जोनाथन ट्रॉट ने जो कहा, उसके आधार पर टीमों के लिए कोई स्पष्टता नहीं थी। जब ट्रॉट से पूछा गया कि क्या अधिकारियों ने स्थिति के संबंध में उनसे सलाह ली है, तो उन्होंने कहा, ‘मुझे कोई जानकारी नहीं है।’रोहित रिटायर्ड नॉट आउट थेरोहित शर्मा ने पहले सुपर ओवर की आखिरी गेंद से पहले पवेलियन जाने का फैसला किया। क्रिकेट के नियम के अनुसार वह रिटायर्ड नॉट आउट थे। यानी वह फिर से बैटिंग करने आ सकते थे। लेकिन क्या इब्राहिम जादरान से इसे लेकर अनुमति ली गई। यही सबसे बड़ा सवाल है। दूसरे सुपर ओवर में भारतीय टीम ने 11 रन बनाए और सभी रोहित के बल्ले से ही निकले। पहले सुपर ओवर में भी उन्होंने 13 रनों का योगदान दिया था। मैच में रोहित ने 121 रनों की नाबाद पारी खेली थी।