असम के मंदिर में राहुल गांधी को आने से रोके जाने वाली बात पर हिमंत सरमा का तंज, कहा- राम राज्य

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने सोमवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर उनकी भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान नागांव जिले में समाज सुधारक श्रीमंत शंकरदेव की जन्मस्थली बताद्रवा थान जाने की अनुमति नहीं दिए जाने पर कटाक्ष किया। मुख्यमंत्री ने एक्स पर लिखा, “राम राज्य। राहुल गांधी ने अन्य कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ सोमवार को नगांव में धरना दिया, जब उन्होंने आरोप लगाया कि उन्हें बताद्रवा थान जाने की अनुमति नहीं दी गई।इसे भी पढ़ें: खरगे, राहुल गांधी ने मणिपुर, त्रिपुरा, मेघालय के स्थापना दिवस पर लोगों को दी बधाईस्थानीय सांसद और विधायक को छोड़कर, किसी भी कांग्रेस नेता को मंदिर स्थल से लगभग 20 किमी दूर हैबोरागांव से आगे जाने की अनुमति नहीं दी गई। वीडियो में राहुल गांधी एक सुरक्षा अधिकारी से रोके जाने का कारण पूछते नजर आ रहे हैं। वरिष्ठ कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने आज कहा कि राहुल गांधी वहां जाना चाहते थे। हम 11 जनवरी से कोशिश कर रहे थे और हमारे दो विधायकों ने इसके लिए प्रबंधन से मुलाकात की थी।इसे भी पढ़ें: असम सरकार भारत में सबसे भ्रष्ट है: राहुल गांधी ; भारत जोड़ो न्याय यात्रा ने राज्य में किया प्रवेशरमेश ने कहा कि हमने कहा था कि हम 22 जनवरी को सुबह 7 बजे वहां आएंगे। हमें बताया गया था कि हमारा स्वागत किया जाएगा। लेकिन कल, हमें अचानक बताया गया कि हम दोपहर 3 बजे से पहले वहां नहीं आ सकते। वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने संवाददाताओं से कहा, “यह राज्य सरकार का दबाव है। हम वहां जाने की कोशिश करेंगे, लेकिन दोपहर 3 बजे के बाद वहां जाना बहुत मुश्किल है क्योंकि हमें अतिरिक्त दूरी तय करनी होगी।