इधर चमकते रहे अडानी, उधर एक दी झटके में मुकेश अंबानी ने गंवा दी ₹ 1,06,96,76,40,000 दौलत

नई दिल्ली: बीते एक महीने-डेढ़ महीने से (Gautam Adani) चर्चा में छाए हुए हैं। गौतम अडानी की कंपनी अडानी समूह को लेकर अमेरिकी रिसर्च फर्म हिंडनबर्ग (Hindenburg) ने अपनी रिपोर्ट जारी की, जिसके बाद से अडानी समूह के शेयर गिरने लगे। हालांकि बीते 10 दिनों से अडानी के शेयरों में तेजी लौट रही है। अडानी समूह की कंपनियों के शेयर धीरे-धीरे चढ़ने लगे हैं। कंपनियों के नुकसान की भरपाई होने लगी है। वहीं गौतम अडानी का नेटवर्थ भी बढ़ने लगा है। हिंडनबर्ग की रिपोर्ट आने के बाद गौतम अडानी का नेटवर्थ 31 अरब डॉलर तक पहुंच गया था। फोर्ब्स बिलेनियर इंडेक्स में गौतम अडानी जो कभी तीसरे पायदान पर थे, जो गिरकर 37वें नंबर पर पहुंच गए थे, लेकिन अब वो वापसी कर रहे हैं। उनकी दौलत बढ़ रही है। अमीरों की इस लिस्ट में वो 48.5 अरब डॉलर के साथ 24वें नंबर पर पहुंच गए हैं। सोमवार को हफ्ते के पहले कारोबारी दिन गौतम अडानी की संपत्ति में 1.3 अरब डॉलर की बढ़ोतरी आई। जहां एक तरफ गौतम अडानी कमबैक कर रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ भारत के सबसे अमीर उद्योगपति () की संपत्ति गिरती जा रही है। अमीरों की लिस्ट में लुढ़क गए अंबानी रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) के चेयरमैन मुकेश अंबानी की दौलत सोमवार को 1.3 अरब डॉलर घट गई। फोर्ब्स रियल टाइम बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक मुकेश अंबानी ने एक ही झटके में 1.3 अरब डॉलर यानी करीब 1,06,96,76,40,000 रुपये की दौलत गंवा दी। इस नुकसान के साथ ही मुकेश अंबानी 82.1 अरब डॉलर के नेटवर्थ के साथ फोर्ब्स बिलेनियर्स इंडेक्स की लिस्ट में 8वें नंबर से खिसकरकर 9वें पायदान पर पहुंच गए हैं। रिलायंस के शेयरों में गिरावट बीते कुछ दिनों से शेयर बाजार से रिलायंस के लिए अच्छी खबर नहीं आ रही है। बीते हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन के बाद आज हफ्ते के पहले कारोबारी दिन में भी रिलायंस के शेयरों में गिरावट देखने को मिला। आज रिलायंस के शेयर 1.65 फीसदी तक गिरकर 2284.90 रुपये पर पहुंच गए। वहीं शुक्रवार को रिलायंस के शेयर में डेढ़ फीसदी की गिरावट आई थी। शुक्रवार को कंपनी का मार्केट कैप 25 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा गिर गया। शुक्रवार को कंपनी का मार्केट कैप 15,71,724.26 करोड़ रुपये था, जो आज गिरकर 15,45,846.27 रुपये पर पहुंच गया। यानी आज कंपनी का मार्केट कैप25,877.99 करोड़ रुपये लुढ़क गया।