किसानों के साथ खड़ी है हरियाणा सरकार : खट्टर

भिवानी। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि प्रदेश सरकार किसान हितैषी है और प्राकृतिक आपदा जैसी हर परिस्थिति में प्रदेश सरकार किसानों के साथ हर संभव सहयोग के लिए खड़ी है।
खट्टर ने कहा कि हाल ही हुई बरसात एवं ओलावृष्टि से खराब हुई फसलों का मुआवजा विशेष गिरदावरी करवाने के बाद अगले महीने तक दिया जाएगा। मुख्यमंत्री सोमवार को भिवानी जिले के तिगड़ाना और धनाना गांव में जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान ग्रामीणों से सीधा संवाद कर रहे थे।
इस मौके पर उनके साथ कृषि मंत्री जेपी दलाल के अलावा विधायक एवं अन्य लोग उपस्थित थे।
खट्टर ने जनसंवाद कार्यक्रम में पहुंचे ग्रामीणों को कहा कि जहां खेतों में पानी का नियमित ठहराव है, वे किसान परंपरागत खेती की अपेक्षा मछली पालन व्यवसाय को अपनायें, और आर्थिक रूप से समृद्धि की दिशा में प्रभावी कदम बढाएं।
उन्होंने कहा कि मछली पालन व्यवसाय में झींगा मछली का पालन करने पर प्रति एकड़ करीब दो लाख रुपये प्रति वर्ष की आय है, ऐसे में जलभराव वाले क्षेत्र का सदुपयोग करते हुए आर्थिक रूप से लाभ लिया जा सकता है।
मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश सरकार ने अपने आठ साल के कार्यकाल में अंत्योदय की भावना से जनहितकारी कार्य किये हैं।
जनसंवाद कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री, कृषि मंत्री के साथ किसानों के खेत में पहुंचे।इसे भी पढ़ें: Haryana: विश्व मुक्केबाजी चैंपियन नीतू के घर पहुंचे मुख्यमंत्रीखेत में बारिश के चलते खराब हुई फसल का उन्होंने जायजा लिया और उन्हें ‘मेरी फसल, मेरा ब्यौरा’ पोर्टल पर पंजीकरण कराने के लिये कहा ताकि विशेष गिरदावरी के अनुरूप उन्हें मुआवजा मिल सके।
मुख्यमंत्री ने इस बीच, धनाना गांव जनसंवाद के दौरान खरीद केंद्र को दो एकड़ से बढ़ा कर छह एकड़ में विकसित करने की घोषणा की।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने विभिन्न विभागों की योजनाओं को ऑनलाइन कर दिया है और अब नागरिक घर बैठे ही मोबाइल से आवेदन कर सकते हैं, और इसके लिए उन्हें कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ते।