Haryana: पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा से ईडी ने की पूछताछ, लगा है यह बड़ा आरोप

प्रवर्तन निदेशालय ने बुधवार को भूमि सौदा मामले में हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा से पूछताछ की। मनी लॉन्ड्रिंग रोधी एजेंसी मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत नई दिल्ली स्थित अपने कार्यालय में 76 वर्षीय कांग्रेस नेता से पूछताछ कर रही है। ईडी द्वारा मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों और नौकरशाहों की कथित मिलीभगत से 2004-07 के दौरान मानेसर में भूमि अधिग्रहण में कथित अनियमितताओं पर पहले दर्ज की गई सीबीआई एफआईआर से शुरू हुई है।  इसे भी पढ़ें: AAP के सुंदरकांड पाठ कार्यक्रम पर BJP का तंज, अनुराग ठाकुर बोले- ED के समन ने केजरीवाल को धर्म से जोड़ापीएमएलए मामला सितंबर, 2016 में हरियाणा पुलिस की एफआईआर के आधार पर दर्ज किया गया था। जांच एजेंसी के मुताबिक, कई किसानों और जमीन मालिकों ने आरोप लगाया था कि इस भूमि अधिग्रहण मामले में उनसे करीब 1,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की गई है। केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) भी इस मामले में जांच कर रहा है। इसे भी पढ़ें: Jharkhand: Hemant Soren को ED का 8वां समन, पूछा- आप हाजिर क्यों नहीं हो रहे? इससे पहले हरियाणा में अगले विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस के सत्ता में आने का विश्वास व्यक्त करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि सत्ता परिवर्तन की लड़ाई शुरू हो चुकी है और तमाम कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पूरी मेहनत, जोश और जज्बे के साथ यह लड़ाई लडऩी है। यहां कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुड्डा ने कहा ,‘‘पार्टी के नए कार्यक्रम ‘घर-घर कांग्रेस’ के तहत कार्यकर्ता जनता के बीच जाएं और उसे बताएं कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार क्या-क्या कार्य करेगी। मेट्रो विस्तार के साथ-साथ रोजगार सृजन पर कांग्रेस का विशेष जोर रहेगा।’’