मेरे भाइयों को फांसी दे दो, एक बहन की मांग से हर कोई हैरान… कहानी पढ़ हिल जाएंगे

पूर्वी चंपारण: बिहार के पूर्वी चंपारण में प्रेम-प्रसंग में एक युवक की हत्या का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि युवक की बेरहमी से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। हत्या का खुलासा खुद प्रेमिका ने किया है। प्रेमिका का कहना है कि भाइयों ने ही उसके प्रेमी की कुल्हाड़ी से काट कर और पीट-पीटकर हत्या कर दी। लड़की अपने भाइयों के लिए फांसी की मांग कर रही है। घटना पूर्वी चंपारण जिले के केसरिया थाना के दिलावरपुर की है। युवक का शव शनिवार को भगवानपुर-दिलावरपुर नहर के किनारे से बरामद किया गया था।

मुजफ्फरपुर का रहने वाला था प्रेमीमृकक की पहचान अभिषेक कुमार के रूप में हुई है। बताया जाता है कि मुजफ्फरपुर के साहेबगंज थाना के धालोपाली गांव निवासी 20 वर्षीय अभिषेक कुमार केसरिया थाना के दिलावरपुर गांव निवासी प्रेमिका रंजना कुमारी से मिलने आया था। मिलन के दौरान प्रेमिका के भाइयों ने दोनों को देख लिया। अभिषेक प्रेमिका के भाई आनंद मोहन सिंह का दोस्त था। दोस्त के घर आने जाने के दौरान अभिषेक और आनंद मोहन की बहन में प्यार हो गया था। इसके बाद दोनों चोरी-छीपे मिला करते थे।

रात में प्रेमिका से मिलने घर पहुंचा था प्रेमीदिलावरपुर गांव साहेबगंज के धालोपाली गंव सटे हुए है। दिलावरपुर गांव में आयी बारात में अभिषेक भी आया था। बारात से निकल कर वह प्रमिका के घर मिलने पहूंच गया। जहां प्रेमिका के भाई छोटू ने देख लिया और बडे भाई आनंद मोहन को खबर दे दिया। जिसके बाद आनंद मोहन और छोटू मिलकर अभिषेक की अपने घर में ही पिटाई करने लगे। इस दौरान प्रेमिका को एक कमरे में बंद कर दिया। मारपीट करते हुए दोनों भाइयों ने अभिषेक को घर के पीछे ले जाकर कुल्हाडी से मारकर हत्या कर दिया। हत्या करने के बाद अभिषेक के कपड़े जैकेट जला दिया। साथ ही शव को मुजप्फरपुर के साहेबगंज थाना इलाके में नहर के किनारे फेंक दिया।

प्रेंमिका ने किया हत्याकांड का खुलासाइधर, शनिवार को शव मिलने के बाद साहेबगंज थाना पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए मुज्फ्फरपुर भेजा। इस बीच प्रेमिका के घर वाले फरार हो गए। प्रेमिका अपने को घर में अकेला पाकर वह मृतक प्रेमी के घर धालोपाली पहुंच गई और घटना के बारे में जानकारी दी। प्रेमिका ने बताया कि कि उसके भाइयों ने ही प्रेमी अभिषेक की हत्या कुल्हाड़ी से काटकर किया है। वह अपने हत्यारे भाई आनंद मोहन सिंह और छोटू को फांसी की सजा देने की मांग की। इधर, मृतक अभिषेक के चाचा के लिखित बयान पर केसरिया थाना पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है।