Gujarat : भड़काऊ भाषण मामले में मुंबई के उपदेशक को पुलिस हिरासत में भेजा गया

 गुजरात में कच्छ जिले की एक अदालत ने कथित तौर पर भड़काऊ भाषण देने के मामले में बृहस्पतिवार को मुंबई के इस्लामी उपदेशक मुफ्ती सलमान अजहरी को तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया।
कच्छ-पूर्व पुलिस ने बुधवार को अजहरी को हिरासत में ले लिया था।
कच्छ-पूर्व पुलिस की स्थानीय अपराध शाखा (एलसीबी) के एक अधिकारी ने बताया कि उन्हें यहां लाया गया और औपचारिक रूप से गिरफ्तार कर लिया गया।
इसके बाद एलसीबी ने उन्हें भचाऊ में न्यायिक मजिस्ट्रेट योगिता शर्मा के समक्ष पेश किया और उनकी 14 दिन की रिमांड मांगी, लेकिन न्यायाधीश ने पुलिस को उनकी हिरासत केवल रविवार तक के लिए दी।
गुजरात पुलिस ने 31 जनवरी की रात जूनागढ़ में एक धार्मिक कार्यक्रम में भड़काऊ भाषण देने के आरोप में उपदेशक को पांच फरवरी को मुंबई से गिरफ्तार किया था।
उनके भाषण का एक वीडियो सोशल मीडिया पर प्रसारित होने के बाद जूनागढ़ पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की थी।
इसके बाद छह फरवरी को कच्छ-पूर्व पुलिस ने 31 जनवरी को कच्छ जिले के भचाऊ तालुका के सामाखियारी गांव में एक धार्मिक कार्यक्रम में कथित रूप से भड़काऊ भाषण देने के लिए अजहरी के खिलाफ दूसरी प्राथमिकी दर्ज की थी।