IIT छात्रों के लिए गुड न्यूज! बीटेक के साथ कर सकते हैं बिजनेस, 2 साल की छुट्टी भी

कानपुर आईआईटी में पढ़ने वाले छात्रों के लिए बड़ी खुशखबरी है. IIT Kanpur में पढ़ने वाले छात्र कोर्स के साथ अब बिजनेस भी शुरू कर सकेंगे. संस्थान में स्टूडेंट एंटरप्रेन्योर पॉलिसी की शुरुआत को मंजूरी मिल गई है. इस पॉलिसी के पास हो जाने के बाद छात्र अपने कोर्स के दौरान ही बिजनेस शुरू कर सकेंगे. छात्र अपने 4 साल के B Tech कोर्स के दौरान 2 साल की छुट्टी लेकर स्टार्टअप पर फोकस कर सकते हैं. हालांकि इसके लिए यह सख्त निर्देश हैं कि छात्रों को अपना बीटेक 6 साल में पूरा करना होगा.
आईआईटी कानपुर ने स्टूडेंट एंटरप्रेन्योर पॉलिसी की शुरुआत कर दी है. कंपनी शुरू करने के दौरान संस्थान से उनको कम से कम 1 साल और अधिकतम 2 साल की छुट्टी मिलेगी. साथ ही पढ़ाई पूरी करने के बाद वे संस्थान के एक्टिवेशन सेंटर में अपना रजिस्ट्रेशन भी करा सकेंगे. IIT की सीनेट में इस पॉलिसी को हरी झंडी दे दिया गया है.
IIT में होगी Company Law की पढ़ाई
आईआईटी कानपुर संस्थान में ग्रेजुएशन लेवल पर ही छात्रों को एंटरप्रेन्योरशिप की ओर प्रेरित करने के लिए इस पॉलिसी को लाया गया है. संस्थान के अधिकारी मानते हैं बीटेक करने वाले छात्र अगर कंपनी शुरू करना चाहते हैं, तो उनको संस्थान से मदद मिलेगी. छात्रों को कंपनी शुरू करने के लिए अकाउंटिंग कंपनी लॉ के बारे में जानकारी भी संस्थान द्वारा दी जाएगी.
छात्र अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई के दौरान कंपनी शुरू करने या कंपनी की ओर बढ़ने के लिए अधिकतम 2 साल की छुट्टी संस्थान से पा सकते हैं. आईटी कानपुर के इस कदम की हर संस्थान में तारीफ हो रही है. संस्थान में इस पॉलिसी के पास हो जाने के बाद छात्रों में भी खुशी की लहर है. अपनी पढ़ाई के दौरान छात्र अब अपने पैरों पर खड़े होने के अवसर तलाश रहे हैं.
Start Up पॉलिसी को मंजूरी
IIT कानपुर में पॉलिसी के चेयरमैन प्रोफेसर समीर खांडेकर ने कहा कि पहली बार संस्थान में छात्रों के लिए यह पॉलिसी सुविधा शुरू की गई है. अभी तक केवल शिक्षकों को ही StartUp या अन्य कामों के लिए अवकाश मिल पाता था, लेकिन अब छात्रों को भी इसका अवसर लाभ मिलेगा.
साथ ही, इस पॉलिसी में यह भी नियत कर आ गया है कि 4 साल के कोर्स में अगर 2 साल की छुट्टी छात्र लेता है तो ऐसे छात्र को 6 साल में बीटेक पूरा करना होगा. इससे ज्यादा समय उसको नहीं दिया जाएगा. छात्र कंपनी शुरू करने के लिए किसी भी समय आवेदन कर छुट्टी ले सकते हैं. किसी भी साल से अवकाश के लिए संस्थान में अपना आवेदन कर सकते हैं.