किसानों को तोहफा, खरीफ सीजन के लिए 14 फसलों के MSP को मंजूरी, कैबिनेट की बैठक में फैसला

नई दिल्‍ली: केंद्र सरकार ने के लिए 14 फसलों के (एमएसपी) को मंजूरी दी है। यह फैसला में लिया गया। सरकार का कहना है कि एमएसपी में बढ़ोतरी का उद्देश्य किसानों को उनकी उपज का बेहतर मूल्य दिलाना और कृषि क्षेत्र को अधिक लाभदायक बनाना है। एमएसपी केंद्र सरकार की ओर से तय एक न्यूनतम मूल्य है। इस पर सरकार किसानों से उनकी उपज खरीदने की गारंटी देती है। केंद्रीय कैबिनेट के फैसलों पर केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अश्विनी वैष्णव ने जानकारी दी। उन्‍होंने कहा, ‘आज कैबिनेट में किसान कल्याण के लिए बहुत महत्वपूर्ण फैसला लिया गया है। खरीफ फसल के लिए 14 फसलों पर कैबिनेट ने MSP को मंजूरी दी है। धान का नया MSP 2,300 रुपये किया गया है जो पिछली MSP से 117 रुपये अधिक है। कपास का नया MSP 7,121 और एक दूसरी किस्म के लिए 7,521 रुपये पर मंजूरी दी है जो पिछली MSP से 501 रुपये ज्यादा है।’खरीफ फसलों के लिए एमएसपी – मार्केटिंंग सीजन 2024-25 (रुपये प्रति क्विंटल)फसलएमएसपी 2024-25लागत*केएमएस 2024-25लागत पर लाभ (%)एमएसपी 2023-242023-24 की तुलना में 2024-25 में एमएसपी में वृद्धिधान (सामान्य)23001533.050.02183117धान (ग्रेड ए)2320–2203117ज्वार (हाइब्रिड)33712247.050.03180191ज्वार (मलदांडी)3421–3225196बाजरा26251485.077.02500125रागी42902860.050.03846444मक्का22251447.054.02090135दलहन फसलों के लिए एमएसपी – मार्केट‍िंंग सीजन 2024-25 (रुपये प्रति क्विंटल)फसलएमएसपी 2024-25लागत*केएमएस 2024-25लागत पर लाभ (%)एमएसपी 2023-242023-24 की तुलना में 2024-25 में एमएसपी में वृद्धिअरहर (तूर)75504761597000550मूंग86825788508558124उड़द74004883526950450तिलहन फसलों के लिए एमएसपी – मार्केटिंग सीजन 2024-25 (रुपये प्रति क्विंटल)फसलएमएसपी 2024-25लागत*केएमएस 2024-25लागत पर लाभ (%)एमएसपी 2023-242023-24 की तुलना में 2024-25 में एमएसपी में वृद्धिमूंगफली67834522506377406सूरजमुखी का बीज72804853506760520सोयाबीन (पीला)48923261504600292तिल92676178508635632राई87175811507734983कपास के लिए एमएसपी – मार्केट सीजन 2024-25 (रुपये प्रति क्विंटल)किस्मएमएसपी 2024-25लागत*केएमएस 2024-25लागत पर लाभ (%)एमएसपी 2023-242023-24 की तुलना में 2024-25 में एमएसपी में वृद्धिमध्यम लंबा रेशा71214747506620501लंबा रेशा7521–7020501पीएम मोदी की अध्‍यक्षता में हुई बैठकप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक हुई। जिन 14 खरीफ फसलों के MSP को मंजूरी दी गई है उनमें धान, रागी, बाजरा, ज्वार, मक्का और कपास शामिल हैं। पीएम मोदी का तीसरा कार्यकाल अहमवैष्‍णव ने कहा, ‘पीएम मोदी का तीसरा कार्यकाल बहुत महत्वपूर्ण है। कारण है कि यह किसानों के कल्याण के लिए कई फैसलों के जरिये बदलाव के साथ निरंतरता पर केंद्रित है।’ वैष्णव ने बताया कि आज के फैसले के बाद किसानों को एमएसपी के रूप में लगभग 2 लाख करोड़ रुपये मिलेंगे। कैबिनेट ने वधावन बंदरगाह के निर्माण को भी मंजूरी दे दी है। वधावन बंदरगाह की क्षमता एक बार पूरा हो जाने पर 23 मिलियन टीईयू होगी। यह आज के सभी मौजूदा भारतीय बंदरगाहों की संयुक्त क्षमता से भी ज्‍यादा है। इसके अलावा कैबिनेट ने गुजरात और तमिलनाडु में 7,453 करोड़ रुपये के कुल खर्च के साथ 1 गीगावाट की अपतटीय पवन ऊर्जा परियोजनाओं को भी मंजूरी दी।