गडकरी ने झारखंड में सड़क परियोजनाओं का उद्घाटन किया

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बृहस्पतिवार को कहा कि केंद्र 2024 तक झारखंड में सड़कों के विकास और निवेश आकर्षित करने के लिए दो लाख करोड़ रुपये का निवेश करेगा।
सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री गडकरी ने यहां 3,800 करोड़ रुपये से अधिक के नौ सड़क और रेल ओवर-ब्रिज की नींव रखी।
वह 13,296 करोड़ रुपये की कुल 31 परियोजनाओं को शुरू करने के लिए तैयार हैं। इनमें से 21 परियोजनाएं राज्य की राजधानी रांची से संबंधित हैं, जिस पर 9,453 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।
गडकरी ने 10 किलोमीटर लंबे ‘डबल-डेकर’ कॉरिडोर को राष्ट्र को समर्पित करने के तुरंत बाद गोपाल मैदान में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, “सड़कों के विकास से उद्योग आएंगे, खनन क्षेत्र का अंतत: विकास होगा और युवाओं के लिए रोजगार के अवसर सृजित होंगे।”
गडकरी ने लंबे समय से इसके लिए दबाव बना रहे भाजपा सांसद विद्युत बरन महतो को बधाई देते हुए कहा, “मुझे देश की पहली ‘डबल-डेकर’ सड़क (एनएच 33 पर पारडीह काली मंदिर, डिमना चौक और बालीगुमा को जोड़ने वाली सड़क) का उद्घाटन करके बहुत खुशी हो रही है।”
पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति जॉन एफ. कैनेडी के उस वाक्य को भी उद्धृत किया कि “अमेरिकी सड़कें इसलिए अच्छी नहीं हैं, क्योंकि अमेरिका अमीर है, बल्कि अमेरिकी सड़कें अच्छी हैं, इसलिए अमेरिका अमीर है”। उन्होंने कहा कि प्रचुर मात्रा में खनिज-भंडार और वनों से संपन्न झारखंड अब समतल सड़कों और बेहतर संपर्क का दावा कर सकता है।
उन्होंने कहा, “राष्ट्रीय विकास में राज्य का योगदान बहुत अधिक है। यह देश को कोयले और लोहे की आपूर्ति करता है। यदि निवेश किया जाता है, तो रोजगार के अवसर पैदा होंगे, जो बदले में गरीबी को भी कम करेगा।”
इसके अलावा केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री ने राज्य में और भी कई अन्य परियोजनाओं की आधारशिला रखी।