परिवारवाद, करप्शन से लेकर ‘अबकी बार 400 पार’ तक… पीएम के भाषण की 10 बड़ी बातें

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री ने आगामी लोकसभा चुनाव के बाद तीसरी बार बीजेपी की सरकार बनने का विश्वास जताया। उन्होंने लोकसभा में कहा कि हमारी सरकार का तीसरा कार्यकाल भी बहुत दूर नहीं है। ज्यादा से ज्यादा सौ-सवा सौ दिन रह गए हैं। मैं आमतौर पर आंकड़ों के चक्कर में नहीं पड़ता। लेकिन मैं देश का मिजाज देख रहा हूं। देश बीजेपी को 370 सीटें अवश्य देगा। एनडीए का आंकड़ा 400 के पार रहेगा। उन्होंने विपक्षी पार्टी कांग्रेस पर अब तक का सबसे बड़ा हमला बोला। पीएम मोदी ने कहा कि देश को जवाहर लाल नेहरू की गलतियों की भारी कीमत चुकानी पड़ी। नेहरू सोचते थे कि भारतीय आलसी हैं। कांग्रेस के शाही परिवार के लोग, मेरे देश के लोगों को ऐसा ही समझते थे। आज भी वही सोच देखने को मिलती है। कांग्रेस का विश्वास हमेशा सिर्फ एक परिवार पर रहा है। एक परिवार के आगे न कुछ सोच सकते हैं, न कुछ देख सकते हैं। पीएम मोदी ने इस दौरान परिवारवाद, करप्शन, इंडिया गठबंधन में फूट के मुद्दे को भी उठाया। यही नहीं एनडीए सरकार के 10 साल में उठाए गए कदम और विकास कार्यों का जिक्र भी पीएम मोदी ने अपने संबोधन में किया। एक तरह से विपक्ष को अपनी सरकार के तीसरे कार्यकाल का विजन पीएम मोदी दे गए। उन्होंने एक-एक प्वाइंट के जरिए बताया कि आखिर उनकी सत्ता में वापसी क्यों होगी।कांग्रेस की मानसिकता पर उठाए सवालसंसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव को लेकर जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को जमकर सुनाया। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि कांग्रेस की जो मानसिकता है, उससे देश को बहुत नुकसान हुआ है। कांग्रेस ने देश के सामर्थ्य पर कभी विश्वास नहीं किया, वो जनता-जनार्दन को कमतर आंकते गए। लोकसभा में पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस का विश्वास हमेशा एक परिवार पर रहा है। एक परिवार के आगे न कुछ सोच सकते हैं और न ही कुछ देख सकते हैं। इसके साथ ही पीएम मोदी सदन में विश्वास से भरे दिखे और उन्होंने सबके सामने बता दिया कि उन्होंने अपने दोनों कार्यकाल में सरकार के लिए क्या विजन बनाया था। उनका अगला कार्यकाल किस विजन के साथ शुरू होगा।’पूरा देश कह रहा- अबकी बार 400 पार’पीएम मोदी ने कहा कि हमने अपने पहले कार्यकाल में यूपीए के समय के जो गड्ढे थे, उस गड्ढे को भरने में काफी समय और शक्ति लगाई। हमने अपने दूसरे कार्यकाल में नए भारत की नींव रखी और तीसरे कार्यकाल में हम विकसित भारत के निर्माण को नई गति देंगे। उन्होंने आगे कहा कि अब हमारी सरकार का तीसरा कार्यकाल भी बहुत दूर नहीं है। ज्यादा से ज्यादा 100-125 दिन बाकी हैं और पूरा देश कह रहा है… अबकी बार 400 पार।तीसरे कार्यकाल में होंगे बहुत बड़े फैसले- पीएमपीएम मोदी ने कहा कि 2024 के लोकसभा चुनाव में एनडीए को तो 400 पार सीटें मिलेंगी ही… लेकिन देश, भाजपा को 370 सीटें अवश्य देगा। हमारा तीसरा कार्यकाल बहुत बड़े फैसलों का होगा… मैंने लाल किले से कहा था और राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के समय भी दोहराया था कि देश को अगले हजार वर्षों तक समृद्ध और सिद्धि के शिखर पर देखना चाहता हूं। तीसरा कार्यकाल अगले 100 वर्षों के लिए एक मजबूत नींव रखने का कार्यकाल होगा। देश के 140 करोड़ देशवासियों के सामर्थ्य पर मुझे अपार भरोसा है।भ्रष्टाचार पर विपक्ष को घेराप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई जारी रहने का वादा करते हुए कहा कि जांच एजेंसिया स्वतंत्र हैं। यह स्वतंत्रता उन्हें भारतीय संविधान से मिली हुई है। विपक्षी दलों के आरोपों पर पलटवार करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले की सरकारों के समय सदन का पूरा समय घोटालों की चर्चा में जाता था। भ्रष्टाचार की चर्चा में जाता था, लगातार एक्शन की मांग होती थी। चारों तरफ सिर्फ भ्रष्टाचार की ही खबरें होती थी। उन्होंने कहा कि आज जब भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई होती है तो ये लोग उनके समर्थन में हंगामा करते हैं। उन्होंने कांग्रेस पर अटैक करते हुए कहा कि यूपीए कार्यकाल के दौरान, जांच एजेंसियों का इस्तेमाल केवल राजनीतिक उद्देश्यों के लिए किया गया था। जांच एजेंसियों को काम करने नहीं दिया जाता था।देश का लूटा हुआ माल देना ही पड़ेगा- पीएमपीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस के समय ईडी ने 5,000 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की थी। हमारे कार्यकाल में ईडी ने एक लाख करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की। देश का लूटा हुआ माल देना ही पड़ेगा। अब बिचौलियों के लिए गरीबों को लूटना बहुत मुश्किल हो गया है। डीबीटी, जनधन अकाउंट, आधार, मोबाइल, उसकी ताकत हमने पहचानी है। 30 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की रकम हमने लोगों के खाते में सीधा पहुंचायी है। पहले कांग्रेस के एक प्रधानमंत्री ने कहा था कि हम 100 रुपए भेजते हैं तो 15 पैसे ही गरीबों तक पहुंचते हैं। पीएम मोदी बोले कि उन्हें हैरानी होती है कि लोग उन नेताओं का भी सार्वजनिक तौर पर महिमामंडन कर रहे हैं, जिन्हें कोर्ट से सजा मिल चुकी है।महंगाई के मुद्दे पर भी कांग्रेस पर अटैकप्रधानमंत्री ने महंगाई के आंकड़ों का जिक्र करते हुए यह भी दावा किया कि वैश्विक स्तर पर युद्ध और विपरीत परिस्थितियों के बावजूद उनकी सरकार ने महंगाई को नियंत्रण में रखा हुआ है। पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश में महंगाई पर दो गाने सुपरहिट हुए- ‘महंगाई मार गई’ और ‘महंगाई डायन खाए जात है’। ये दोनों गाने कांग्रेस के शासनकाल में आए। UPA के कार्यकाल में महंगाई डबल डिजिट में थी, इसे नकार नहीं सकते। उस पर उनकी सरकार का तर्क क्या था? असंवेदनशीलता। यह कहा गया था कि महंगी आइसक्रीम खा सकते हो तो महंगाई का रोना क्यों रोते हो? कर्पूरी ठाकुर को ‘भारत रत्न’ का पीएम ने किया जिक्रप्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर, जिन्हें जननायक के नाम से जाना जाता था। उनको बिहार में कांग्रेस और अन्य दलों की ओर से अपमानित किया गया था। पीएम मोदी ने कांग्रेस और पहले की यूपीए सरकार पर पिछड़े समुदाय के साथ अन्याय करने का भी आरोप लगाया। प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस नेता सरकार में ओबीसी की संख्या गिनाते रहते हैं, लेकिन उन्हें सबसे बड़ा ओबीसी नेता नजर नहीं आता। कर्पूरी ठाकुर का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने पिछड़े समुदायों का प्रतिनिधित्व करने वाले नेता को मरणोपरांत भारत रत्‍न देकर सम्मानित किया।कश्मीर को लेकर क्या बोले पीएम मोदीपीएम मोदी ने कहा कि पहले सदन में कश्मीर की बात होती थी तो हमेशा चिंता का स्वर निकलता था। आज जम्मू-कश्मीर में अभूतपूर्व विकास की चर्चा हो रही है। कश्मीर के लोगों को, देश के लोगों को नेहरू जी की गलतियों का बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है। लेकिन हम देश के लिए, काम करने के लिए निकले हुए लोग हैं- हमारे लिए नेशन फर्स्ट है। संसद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस सांसद डीके सुरेश की ‘अलग देश’ वाली टिप्पणी पर उनकी आलोचना की।