पंजाब विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति के पद्म भूषण पदक की चोरी के मामले में पांच लोग गिरफ्तार

नयी दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने बुधवार को कहा कि पंजाब विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति जी. सी. चटर्जी के पद्म भूषण पदक की चोरी के मामले में एक महिला समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। दिल्ली पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आरोपियों की पहचान श्रवण कुमार (33), हरि सिंह (45), रिंकी देवी (40), वेद प्रकाश (39) और प्रशांत विश्वास (49) के रूप में हुई है जो यहां मदनपुर खादर के निवासी हैं। पुलिस के मुताबिक, बिस्वास एक जौहरी है जिसने कथित तौर पर पदक खरीदा था। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हरि सिंह, रिंकी देवी और वेद प्रकाश मंगलवार को पदक को बेचने के लिए एक जौहरी दलीप के पास गए। दलीप ने पदक को नहीं खरीदा और पुलिस को सूचना दी। इस दौरान आरोपी वहां से चले गए। उन्होंने बताया कि इसके बाद पुलिस हरकत में आ गई और आरोपी व्यक्तियों को गिरफ्तार करने के लिए सरिता विहार के पुलिस उपायुक्त की देखरेख में कालिंदी कुंज के थाना प्रभारी और अन्य कर्मियों का एक दल बनाया गया। इस मामले में इलाके के सीसीटीवी फुटेज की जांच की गई। पुलिस अधिकारी ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के बाद आरोपियों की पहचान हरि सिंह, रिंकी देवी और प्रकाश बिस्वास के रूप में हुई। पुलिस के अनुसार, पूछताछ में सामने आया कि पदक श्रवण कुमार ने चुराया था जो साकेत का रहनेवाला है और जी. सी. चटर्जी के पोते समरेश चटर्जी का चिकित्सा सहायक था।