FIFA World Cup 2022 : जापान और स्पेन के मुकाबले में हुआ विवादित गोल, इसने बदल दिया पूरा मैच

जापान की टीम ने फीफा विश्व कप 2022 में एक दिसंबर को हुए अहम मुकाबले में एक गोल से पिछड़ने के बाद वापसी की। दूसरे हाफ के शुरू में दो दागकर गुरूवार को देर रात यहां स्पेन पर 2-1 की जीत से फीफा विश्व कप के राउंड 16 के लिये क्वालीफाई किया। इस मैच में जापान की टीम ने एक विवादित गोल भी किया जो लगातार चर्चा में बना हुआ है। इस प्रतियोगिता में ग्रुप ई की चारों टीमें नॉकआउट में जगह बनाने के लिए जुटी हुई थी। जापान को इस मैच में बने रहने के लिए जीतना बेहद जरूरी था। स्पेन के लिये अलवारो मोराटा ने 11वें मिनट में गोल कर अपनी टीम को बढ़त दिलायी थी। स्पेन ने मैच की अच्छी शुरुआत की और 1-0 की बढ़त लेने में सिर्फ 12 मिनट का समय लिया। अलवारो मोराटा ने ये गोल किया था। लेकिन जापान ने रित्सु दोआन के 48वें मिनट में किये गये गोल से 1-1 की बराबरी हासिल की। वहीं जापान की इस जीत में VAR के फैसले ने बहुत बड़ी भूमिका निभाई। इसके बाद जापान के आओ टनाका ने जापान के लिए एक और गोल किया, जो मैच का फाइनल गोल साबित हुआ।  दूसरे गोल ने खिंचा ध्यानमैच में जापान की टीम ने दो गोल दागे। जापान की ओर से किया गया दूसरा गोल ऐसा था जिसने फैंस का ध्यान अपनी ओर खिंचा है। शुरूआत में माना जा रहा था कि गोल को अवैध माना जाएगा मगर ऐसा नहीं हुआ। दरअसल ऐसा लग रहा था कि जापान के काओरू मितामा के खेलने से पहले गेंद बाहर हो गई थी, मगर जांच में पता चला है कि ऐसा नहीं था। इसे लेकर सोशल मीडिया पर विवाद छिड़ा हुआ है। फैंस इस गोल की लगातार फोटो शेयर कर रहे हैं। फैंस ने वीडियो शेयर किया है जिसमें ऐसा लग रहा है कि फुटबॉल लाइन के बाहर है। इस मैच में जीत हासिल कर जापान ग्रुप ई की शीर्ष टीम और स्पेन दूसरे नंबर की टीम बनी है। नॉक आउट क्लैश में स्पेन की टीम मोरक्को की टीम के साथ भिड़ेगी। इस बीच जर्मनी और स्पेन के अंक समान है। मगर जर्मनी की टीम ने फीफा में वर्ष 2010 के विश्व विजेताओं यानी स्पेन की टीम से कम गोल किए है।