कूनो में किलकारी, नामीबिया से आई मादा चीता ने दिया चार बच्चों को जन्म

श्योपुरः मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले में स्थित से अच्छी खबर आई है। नामीबिया से आई मादा चीता ने चार बच्चों को जन्म दिया है। केंद्रीय वन और पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्वीट कर इस पर खुशी जताई है।मादा चीता सियाया ने चार बच्चों को जन्म दिया है। वाइल्ड लाइफ एक्सपर्ट की टीम ने भी बाड़े में जाकर इसकी पुष्टि की। सियाया बाड़ा नंबर 4 में है। जानकारी के मुताबिक उसने दो दिन पहले इन शावकों के जन्म दिया है। पिछले साल सितंबर महीने में नामीबिया से आठ चीते भारत लाए गए थे। इन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने जन्मदिन 17 सितंबर को कूनो नेशनल पार्क में छोड़ा था। इनमें से एक मादा चीता की सोमवार को मौत हो गई। वह किडनी की बीमारी से पीड़ित थी। जानकारी के मुताबिक भारत लाए जाने से पहले ही उसे यह समस्या थी। जनवरी महीने में उसकी बीमारी के बारे में पता चलने के बाद विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम उसका इलाज कर रही थी, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। इसके बाद से भारत सरकार के प्रोजेक्ट चीता पर सवालिया निशान उठने लगे थे। इस बीच चार शावकों के जन्म से इस प्रोजेक्ट से संदेह के बादल हटेंगे। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शावकों के जन्म पर खुशी जताई है।70 वर्षों के लंबे अंतराल के बाद पिछले साल भारत में चीतों की वापसी हुई थी। देश में अंतिम चीते की मृत्यु 1947 में वर्तमान छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में हुई थी। इस प्रजाति को 1952 में भारत से विलुप्त घोषित कर दिया गया था।