किसानों को फसल नुकसान का मुआवजा दिया जाएगा : Mann

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने रविवार को राज्य के मोगा, मुक्तसर, बठिंडा और पटियाला जिलों का दौरा किया तथा किसानों को उनके फसल को हुए नुकसान का उचित मुआवजा देने का आश्वासन दिया।
इन जिलों में भारी बारिश और ओलावृष्टि के कारण फसलों को नुकसान पहुंचा है।
मान ने कहा कि अगर किसानों को 75 फीसदी फसल का नुकसान हुआ है, तो सरकार उन्हें 15 हजार रुपये प्रति एकड़ की दर से मुआवजा देगी।
उन्होंने कहा कि अगर नुकसान 33 से 75 फीसदी के बीच है, तो 6750 रुपये प्रति एकड़ की दर से मुआवजा दिया जाएगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रमिकों को मुआवजे के रूप में 10 प्रतिशत, जबकि खराब मौसम के कारण घरों को पहुंचे नुकसान के लिए 95,100 रुपये के मुआवजे का भुगतान किया जाएगा।
पंजाब में बेमौसम बरसात, ओलावृष्टि और तेज आंधी के कारण प्रदेश के कई इलाकों में गेहूं एवं अन्य फसलों को नुकसान पहुंचा है।
मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि प्रकृति के प्रकोप से किसानों के हितों की रक्षा के लिए राज्य सरकार जल्द ही फसल बीमा योजना शुरू करेगी।
उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र द्वारा घोषित फसल बीमा योजना कागजों तक ही सिमटकर रह गई है।
मान ने कहा कि पंजाब सरकार किसानों और खेतिहर मजदूरों के कल्याण के लिए हमेशा प्रतिबद्ध रहेगी।
इसके साथ ही उन्होंने जोर देकर कहा कि मौसम में अचानक और अनियमित परिवर्तन के कारण भारी नुकसान झेलने वाले किसानों की पीड़ा और दर्द को वह अच्छी तरह समझ सकते हैं।
मान ने कहा कि प्रारंभिक रिपोर्ट से पता चलता है कि कई एकड़ कृषि क्षेत्र ऐसे वक्त में प्रभावित हुआ है, जब रबी की फसल कटाई के लिए लगभग तैयार थी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने वित्तीय आयुक्त (राजस्व) को संबंधित उपायुक्तों को विस्तृत निर्देश जारी करने के लिए कहा है, ताकि तुरंत फसल के नुकसान का आकलन किया जा सके।