पूर्व कर्मचारी को गाली देना पड़ा महंगा, लोहे की रॉड से हमला कर कारोबारी को मार दिया

बैतूल- बदला ऐसी चीज है जो सब कुछ बर्बाद कर देता है फिर वो चाहे छोटी से बात का हो या फिर बड़ी बात का, अगर गुस्सा किसी के सर पर चढ़ जाए तो वो किसी की जान भी ले सकता है. ऐसा ही कुछ हुआ मध्य प्रदेश के बैतूल जिसे से सामने आया है.जहां एक तेल कारोबारी दिनेश चंद्र अग्रवाल पर हमला किया गया, जिसके बाद उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई. बैतूल पुलिस ने पुरे मामले का खुलासा करते हुए बताया की तेल कारोबारी पर उनके पुराने नौकर ने ही हमला किया था. जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए नागपुर ले जाया गया. जहां उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई. फिलहाल, पुलिस ने हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.
दरअसल,ये घटना क्रम की शुरुआत 27 फरवरी को हुई. जब तेल कारोबारी दिनेश चंद्र अग्रवाल पर हमला हुआ और वे घायल अवस्था में औद्योगिक क्षेत्र भग्गूढाना में स्थित कृष्णा ऑयल मिल के अंदर मिले. जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां से उन्हें नागपुर रेफेर कर दिया गया. जहां नागपुर में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई.
क्या है मामला?
इस पुरे मामले का खुलासा करते हुए बैतूल पुलिस ने बताया की जिस युवक ने तेल कारोबारी दिनेश चंद्र अग्रवाल पर जानलेवा हमला किया वो कोई और नहीं. बल्कि उन्हीं की फैक्ट्री में काम करने वाला पुराना नौकर था. कुछ दिन पहले ही आरोपी मयूर झरबड़े जोकि 12वीं कक्षा का छात्र है. उसकी साइकिल दिनेश चंद्र अग्रवाल की स्कूटी से टकरा गई थी और साइकिल क्षतिग्रस्त हो गई थी.
इस दौरान मयूर ने दिनेश चंद्र अग्रवाल को साइकिल सुधरवाने के लिए बोला था. लेकिन उन्होंने साइकिल नहीं सुधरवाई और इस बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हो गया. इस विवाद के बाद ही मयूर ने दिनेश चंद्र अग्रवाल से बदला लेने का मन बना लिया था.
ये भी पढ़ें: उज्जैन:मोबाइल की बैटरी फटने से नहीं मरे दयाराम, फॉरेंसिक टीम का दावा; नए एंगल से जांच
पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने कबूला जुर्म
पुलिस द्वारा की गई जांच-पड़ताल में जो तथ्य सामने आए है कि उसके अनुसार सीसीटीवी फुटेज में एक संदिग्ध लड़का साइकिल से घटना के पहले दिनेश अग्रवाल की स्कूटी का पीछा करते हुए दिखाई दिया है. ऐसे में जब संदिग्ध लड़के की तलाश की गई तो आरोपी मयूर झरबडे (18) जो कि ग्रीन सिटी बैतूल का होना पाया गया. जिससे घटना के संबंध में पूछताछ की तो आरोपी मयूर ने अपना जुर्म कबूल कर लिया.
पूछताछ के दौरान मयूर झरबड़े ने पुलिस को बताया की जिस दिन उसने दिनेश चंद्र अग्रवाल पर हमला करने का मन बनाया तो पहले दिनेश अग्रवाल की स्कूटी का पीछा किया. उसके बाद आबकारी ऑफिस के सामने उनसे तेल लेने का बोलकर वापस उन्हें ऑयल मिल ले गए.
आरोपी को गिरफ्तार कर घटना में शामिल हथियार किया जब्त
बताया जा रहा है कि आरोपी एक साल पहले दिनेश अग्रवाल की ऑयल मिल पर एक महीनें काम कर चुका है, जिससे आरोपी दिनेश अग्रवाल को पहले से जानता है. हालांकि, पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर घटना में शामिल हथियार जब्त कर लिए हैं, जिसके बाद आरोपी को कोर्ट में पेश किया जा रहा है. वहीं, आज आरोपी मयूर का बारहवीं कक्षा का पेपर था, जिसके चलते मानवीय दृष्टिकोण से पुलिस ने उसे एक्जाम दिलवाया.
गाली से आहत होकर आरोपी ने बनाया बदला लेने का मन- SP
इस सनसनीखेज मामले का खुलासा करते हुए बैतूल एसपी सिमाला प्रसाद ने बताया कि कुछ दिन पहले ही आरोपी मयूर झरबड़े जोकि 12वीं कक्षा का छात्र है. उसकी साइकिल दिनेश चंद्र अग्रवाल की स्कूटी से टकरा गई थी, जिसके बाद उसकी साइकिल क्षतिग्रस्त हो गई थी.
इस दौरान मयूर ने दिनेश चंद्र अग्रवाल को साइकिल सुधरवाने के लिए बोला था. लेकिन उन्होंने साइकिल नहीं सुधरवाई और इस बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हो गया. इस दौरान दिनेश चंद्र अग्रवाल ने मयूर के साथ गाली गलौच की, जिससे मयूर आहत हो गया और उसने बदला लेने के लिए यह कदम उठाया.
ये भी पढ़ें: MP का बदहाल स्कूल, न पीने का पानी, न बैठने की जगह; जर्जर इमारत में पढ़ रहे बच्चे